संवाद सहयोगी, सोलन : डॉ. वाइएस परमार औद्यानिकी एवं वानिकी विश्वविद्यालय नौणी के दो विद्यार्थी इस बार नई दिल्ली के राजपथ पर प्रधानमंत्री बॉक्स से भव्य गणतंत्र दिवस परेड का नजारा देखेंगे। इनमें फूड टेक्नोलॉजी में पोस्ट ग्रेजुएट सचिन मित्तल और वनस्पति विज्ञान विभाग में सीनियर रिसर्च फैलो डॉ. रीना कुमारी शामिल हैं।

यह दोनों केंद्रीय मानव संसाधन और विकास मंत्रालय द्वारा देशभर से चुने गए उन 100 मेधावियों में शामिल हैं, जिन्हें इस वर्ष यह कार्यक्रम देखने का अवसर मिला है। यात्रा का खर्च और रहने का प्रबंध मानव संसाधन विकास मंत्रालय वहन करेगा। सचिन राजस्थान के श्रीगंगानगर जिले के रिदमलसर से संबंध रखते हैं। उन्होंने आइसीएआर जेआरएफ में ऑल इंडिया 14वां रैंक हासिल किया था। उन्होंने पके कद्दू के आटे का मूल्यांकन और बेकरी उत्पादों में इसके उपयोग पर शोध कार्य किया है। वर्तमान में वह किसान फ‌र्स्ट परियोजना के तहत ट्रांसफर ऑफ टेक्नोलॉजी डिवीजन, आइसीएआर- सेंट्रल इंस्टीट्यूट ऑफ पोस्ट-हार्वेस्ट इंजीनियरिग एंड टेक्नोलॉजी, लुधियाना में सीनियर रिसर्च फैलो हैं। विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. परविदर कौशल, वरिष्ठ अधिकारियों, संकाय और छात्रों ने सचिन को उनके चयन पर बधाई दी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस