बीबीएन [जेएनएन] : केंद्रिय स्वास्थ्य मंत्री जगत प्रकाश नड्डा ने हिमाचल प्रदेश के सोलन के बद्दी में एक कार्यक्रम में प्रदेश की वीरभद्र सिंह सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री वीरभद्र कहते हैा कि केंद्र से प्रदेश को धन नहीं मिला, जबकि हकीकत यह है कि पैसा तो बहुत आया है लेकिन वह आपकी जेब में नहीं बल्कि सीधा प्रदेश के विकास के लिए खर्च किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश को अब केंद्र से पैसा सीधा आनलाइन दिया जाता है।

पढ़ें: गुस्साएं बाली, मुख्यमंत्री जी पता लगाएं किसने काटा लिस्ट से मेरा नाम

उन्होंने कहा कि विकास प्रोजेक्टों के बिल सीधा भारत सरकार में जमा करवाने होंगे फिर उसकी पेमेंट जारी होगी। जेपी नड्डा ने कहा कि आज वह प्रदेश में 61 नेशनल हाइवे लेकर घूम रहे हैं, जिसके लिए केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने 290 करोड़ रुपये भी जारी कर दिए हैं, इसके लिए केंद्र से स्वास्थ्य प्रोजेक्टों के लिए करीब 350 करोड़ स्वीकृत कर दिया गया है लेकिन हिमाचल सरकार अब तक जमीन उपलब्ध नहीं करवा सकी है। ऐसे में प्रदेश के मुख्यमंत्री का यह कहना वाजिब नहीं है। उन्होंने कहा कि आकाश से लेकर पाताल तक कांग्रेस ने भ्रष्टाचार को पहुंचा दिया है जिनमें जहाज घोटाला, पनडुब्बी घोटाला, कोयला घोटाला, स्पेक्ट्रम घोटाला, टूजी, थ्रीजी, फोरजी घोटाला समेत अनेक घोटाले शामिल हैं। देश में भाजपा की सरकार अटल वाजपेयी और नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में लगातार आगे बढ़ रही है।

पढ़ें: देश को नोटबंदी का सच बताएं मोदी : राहुल गांधी

जेपी नड्डा ने कहा कि हिमाचल के शिमला को 150 करोड़ का सुपरस्पैशिलटी अस्पताल स्वीकृत किया गया है, जगह उपलब्ध नहीं हुई, चंबा के लिए 20 लाख का मेडिकल कॉलेज दिया गया, जगह नहीं मिली, मंडी के लिए 45 करोड़ रुपये दिए अब तक डीपीआर नहीं बनी, 120 करोड़ शिमला स्टेट कैंसर अस्पताल को दिए अब तक डीपीआर नहीं बनी। नड्डा ने कहा कि देश में नोटबंदी का फैसला बहुत बड़ा फैसला है। मनरेगा की रकम को बिचौलिए खाते थे, अब सीधा खाते में जा रहे हैं। सरकार करोड़ों विकास योजनाओं के लिए देने लगी है, नोटबंदी का असर है। उन्होंने कहा कि आज देश की जनता इस फैसले के साथ है जो सरकार पर अपना विश्वास बता रही है।

हिमाचल प्रदेश की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें:

Posted By: Munish Dixit

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस