सोलन, जेएनएन। सोलन के कसौली में आयोजित खुशवंत सिंह लिटफेस्ट के सातवें संस्करण के अंतिम दिन लेखक और फिल्म निर्देशक सईद मिर्जा और फिल्म निर्देशक सुधीर मिश्रा ने एमनेसिया बुक पर चर्चा की। इस दौरान उन्होंने लोगों से अतीत को न भूलने की  अपील की। इसके अलावा उन्होंने लोगों और मीडिया से कहा कि उनमें सवाल पूछने की ताकत होनी चाहिए, नेताओं के आगे झुकना नहीं चाहिए।

इस दौरान उन्होंने कहा कि सवाल पूछने से देश में संतुलन बना रहेगा और यह समाज के लिए भी बेहतर होगा। इसके अलावा उन्होंने कहा कि मी टू कैंपेन देश के लिए जरूरी है, लेकिन हमें राफेल मामले को भी नहीं भूलना चाहिए, इसके अलावा सईद मिर्जा ने कहा कि देश में मंदिर और मस्जिद बनाएं लेकिन, उससे कोई समस्या का हल नहीं होगा, बल्कि समाज में और भी अनेक समस्याएं हैं जिन पर सरकारों को सोचने की जरूरत है और उनका हल निकालने की जरूरत है।

ज्ञात हो कि कसौली क्लब में महान लेखक स्वर्गीय सरदार खुशवंत सिंह को समर्पित इस लिटफेस्ट का थीम 'स्ट्रेंथ ऑफ अ नारी' रखा गया था। तीन दिन तक चले इस फेस्ट में लिटफेस्ट में पंजाब सरकार में मंत्री व पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू और कांग्रेस नेता शशि थरूर समेत कई नामचिन हस्तियों ने शिरकत की।  

Posted By: Tanisk

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप