जागरण संवाददाता, बद्दी (सोलन) : महाराजा अग्रसेन विश्वविद्यालय में विश्वविद्यालय व रेड हैट अकादमी के बीच अकादमिक उद्योग इंटरफेस के तहत एक एमओयू साइन किया गया। महाराजा अग्रसेन विश्वविद्यालय और रेड हैट अकादमी का मानना है कि वर्तमान शिक्षित व प्रशिक्षित पेशेवरों को उद्योग में रोजगार की आवश्यकताओं और उसके लिए आवश्यक कौशल का पर्याप्त ज्ञान नहीं हैं। इसी कमी को पूरा करने के लिए इस एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए। रेड हैट अकादमी मुख्यत: अकादमिक संस्थानों को इंटरनेट के द्वारा पाठयक्रमों, सॉफ्टवेयर की जानकारी के तहत ओपनसोर्स, वेब डेवल्पमेंट व वेब मैनेजमेंट उपलब्ध करवाता है। रेड हैट अकादमी के वरिष्ठ तकनीकी सलाहकार कुलदीप डीडवानी व मैनेजर खुशदिल गर्ग और महाराजा अग्रसेन विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार डॉ. वीके वत्स ने विवि कुलपति प्रो. (डॉ.) आरके गुप्ता, प्रोजेक्ट इंचार्ज सुरेश गुप्ता, इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी की निदेशक डॉ. अर्पणा एन महाजन व सुनील आर्य, सुशील बंसल व विनीत मेहन की उपस्थिति में एमओयू पर हस्ताक्षर किए।

कुलपति आरके गुप्ता ने राष्ट्र के विकास में छात्र किस प्रकार योगदान कर सकते हैं, विषय पर चर्चा की। उन्होंने विद्यार्थियों को लगातार प्रतिदिन बदलती नवीनतम तकनीकी शिक्षा प्राप्त करने पर बल दिया। प्रोजेक्ट इंचार्ज सुरेश गुप्ता ने देश में नवीनतम टेक्नोलॉजी में बढ रहे कदमों के बारे में बात की और विश्वविद्यालय के प्राध्यापकों व विद्यार्थियों को नवीनतम टेक्नोलॉजी के साथ अनुसंधान में अपने आप को व्यावसायिक तरीके से उच्च स्तर पर पहुंचने की प्रेरणा दी। डॉ. अर्पणा एन महाजन ने विद्यार्थियों को एमओयू के तहत प्राप्त होने वाली ओपन सोर्स टेक्नोलॉजी को अपनाने के लिए प्रोत्साहित किया। रेड हैट अकादमी के मैनेजर खुशदिल गर्ग ने विश्वविद्यालय के साथ एमओयू साइन होने पर प्रसन्नता जाहिर की।

Posted By: Jagran