जागरण संवाददाता, नाहन : अरावली संगठन नाहन की ओर से क्रियांवित ई-शक्ति स्वयं सहायता समूह परियोजना में कार्यरत एनीमेटरों के लिए मोबाइल एप के प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया। यह कार्यक्रम राष्ट्रीय कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक की ओर से आयोजित किया गया। इस मौके पर नाबार्ड के प्रबंधक गौरव शर्मा ने कहा कि जिला में स्वयं सहायता समूह के ई-शक्ति स्वयं सहायता समूह परियोजना में जोड़ने से समूह की महिलाओं को समूह से संबंधित रिकॉर्ड को बेहतर बनाने में मदद मिलेगी। ई-शक्ति परियोजना में कार्यरत एनीमेटर प्रतिमाह समूह में बैठकें कर उनको जागरूक करने के साथ समूह की महिलाओं को आजीविका से जोड़ने का प्रयास करेंगे। साथ ही बैंकों से लोन दिलवाने में भी मदद करेंगे। अग्रणी जिला प्रबंधक सुरेंदर पाल ने कहा की ई-शक्ति परियोजना के क्रियान्वयन होने से बैंकों को समूह को ऋण प्रदान करने में कोई समस्या नहीं होगी। महिलाओं से भी आग्रह किया कि ई-शक्ति परियोजना के लिए जरूरी डाटा संबंधित एनीमेटरों को प्रदान करें, ताकि पारदर्शिता के साथ ई-शक्ति पोर्टल में डाटा डाला जाए। अरावली संगठन के निदेशक डॉ. यशपाल शर्मा ने कहा कि अरावली एक्टिव समूहों की महिलाओं को प्रशिक्षित कर उनको अपना उद्यम स्थापित करने में भी मदद करेगा। शर्मा ने कहा कि जिला में 65 एनीमेटरों की सेवाएं ली जा रही हैं। उन्होंने सभी विभागों, बैंकों तथा स्वयंसेवी संस्थाओं से निवेदन किया कि सभी को एक साथ मिलकर कार्य करना चाहिए। परियोजना के एएसपी आशीष गुप्ता ने एनीमेटरों को ई-शक्ति परियोजना के मोबाइल एप के विभिन्न पहलू पर प्रशिक्षण दिया। इस अवसर पर वीरेंद्र कपूर भी मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस