नाहन, जेएनएन। श्रीरेणुकाजी विधानसभा क्षेत्र के नोहराधार के समीप एक कार दुर्घटना में क्षेत्र के शिक्षक की मौत हो गई। शिक्षक की मौत के बाद ग्रामीणों ने हरिपुरधार-नोहराधार सड़क पर चक्का जाम कर दिया है। ग्रामीण कई वर्षों से इस सड़क पर क्रैश बैरियर व पैरापिट लगाने की मांग कर रहे थे। ग्रामीणों का कहना है सड़क पर उचित सुरक्षा प्रबंध न होने के कारण ही यह हादसा हुआ है।

बताया जा रहा है मंगलवार सुबह करीब नौ बजे संगड़ाह के तहत चाड़ना के समीप बाइक दुर्घटनाग्रस्त होने से 33 वर्षीय शारीरिक शिक्षक सुरेश कुमार पुत्र गोपाल सिंह की मौत हो गई। इस हादसे के बाद गुस्साए लोगों ने हरिपुरधार-नोहराधार मार्ग पर चाड़ना के समीप ठेकेदार द्वारा क्रैश बैरियर नहीं लगाए जाने पर प्रदर्शन शुरू कर दिया। स्थानीय पुलिस ने हादसे के कारणों की जांच शुरू कर दी है।

हिमाचल प्रदेश प्रवक्ता संघ व नई पेंशन योजना कर्मचारी संघ ने शारीरक शिक्षक सुरेश कमार के दुर्भाग्यपूर्ण देहांत पर शोक व्यक्त किया है। संघ के जिला अध्यक्ष सुरेंद्र पुंडीर ने कहा सुरेश बहुत कर्मठ एवं मेहनती शिक्षक थे। संगड़ाह खंड खेलकूद प्रभारी मधु पुंडीर ने कहा सुरेश कमार ने अपने छोटे से कार्यकाल मे विद्यार्थियों के सर्वांगीण विकास के लिए असाधारण कार्य किए। उनके देहांत से संगड़ाह खंड में खेल क्षेत्र में अपूर्णीय क्षति हुई है।

Posted By: Rajesh Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस