जागरण संवाददाता, नाहन :

जिला सिरमौर में एक ही दिन में तीन लोगों ने आत्महत्या की ली। जिला के रोहनाट में बीमारी से तंग महिला ने खुद को आग लगा ली तो पांवटा में उत्तराखंड के युवक ने जहर निगल कर जान दे दी।

पहला मामला शिलाई विधानसभा क्षेत्र के रोहनाट में पेश आया। यहां किराये का कमरा लेकर परिवार के साथ रह रही कोटीबोंच पंचायत के कटाड़ी गाव की 22 वर्षीय महिला बलमा ने वीरवार सुबह पति को काम पर भेजने के बाद बच्चों को भी पड़ोस में भेज दिया। इसके बाद दरवाजा बंद कर शरीर पर तेल छिड़क कर खुद को आग के हवाले कर दिया। जब पड़ोसियों को धुएं के साथ दुर्गध आई तो उन्होंने दरवाजा तोड़ा। शिलाई पुलिस ने मौके पर पहुंचकर जाच शुरू कर दी है। शव का पोस्टमार्टम करवा कर परिजनों को सौंप दिया। मामले की पुष्टि एसएचओ शिलाई जसवीर सिंह ने की है। प्रारंभिक छानबीन में पता चला है कि महिला बीमारी के चलते तनाव में थी।

दूसरे मामले में दोपहर को उत्तराखंड के एक युवक ने बेरोजगारी से तंग आ पावंटा साहिब में जहर निगल कर अपनी जीवन लीला समाप्त कर दी है। वीरवार दोपहर पांवटा में मिनी सचिवालय के समीप युवक को अचेत अवस्था में देखा गया। लोगों ने 108 एंबुलेंस की सहायता से उसे सिविल अस्पताल पहुंचाया, मगर युवक ने अस्पताल पहुंचते ही दम तोड़ दिया। शुरुआती जाच में आत्महत्या का कारण शारीरिक रूप से अक्षम शिक्षित युवक को नौकरी नहीं मिलना माना जा रहा है। युवक की पहचान उत्तराखंड के देहरादून -प्रेम नगर निवासी जितेंद्र सिंह (25) पुत्र लखविंद्र सिंह के रूप में हुई है। पुलिस के अनुसार युवक काफी समय से नौकरी नहीं मिलने से परेशान था।

युवती ने पंखे से लगाया फंदा

तीसरे मामले में गाव बाग आबड़ा डाकघर कोड़गा निवासी 25 वर्षीय युवती काफी समय से पावटा साहिब के बद्रीपुर में रह रही थी। देर शाम युवती ने कमरे के पंखे से फंदा लगाकर जान दे दी। परिजन उसे पंखे से नीचे उतार कर अस्पताल ले गए। जहा चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने मामला दर्ज कर जाच शुरू कर दी है। पावटा साहिब के पुलिस थाना प्रभारी अशोक चौहान ने मामले की पुष्टि की है।

Posted By: Jagran