जागरण संवाददाता, नाहन : राजकीय चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी महासंघ की जिला सिरमौर इकाई ने सीमित सीधी भर्ती (एलडीआर) का अंतिम परीक्षा परिणाम जल्द निकालने की माग की है। संघ का कहना है कि कर्मचारी चयन आयोग हमीरपुर ने 20 प्रतिशत कोटे के तहत चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों में से लिपिक के पद भरने के लिए 275 पदों के लिए फरवरी 2017 में भर्ती प्रक्रिया शुरू की थी। जो आज तक पूरी नहीं हो पाई है। जिससे चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी खुद को मायूस महसूस कर रहे है। प्रेस को दिए बयान में संघ के जिलाध्यक्ष प्रदीप कुमार, महासचिव रामेंद्र सिंह कश्यप, सुरेद्र कुमार, सुरेद्र सिंह ने कहा कि कर्मचारी चयन अयोग हमीरपुर ने फरवरी 2017 में इन पदों को भरने की प्रक्रिया शुरू की थी। जिसकी लिखित परीक्षा अक्तूबर 2017 को हुई। जिसके बाद फरवरी 2018 को टकरण परीक्षा ली गई। जिसे 128 कर्मचारियों ने पास किया। उसके बाद जून 2018 में अंतिम मूल्याकंन परीक्षा ली गई। लेकिन अभी तक इसका परिणाम नहीं निकाला गया है। जबकि इस भर्ती प्रक्रिया को चले हुए डेढ़ साल से अधिक का समय हो चुका है। संघ के पदाधिकारियों ने कहा कि इस परीक्षा को पास करने वाले कर्मचारियों को दो साल के लिए लिपिक पद पर प्रोबेशन पर रखा जाएगा। दो साल तक उन्हे चतुर्थ श्रेणी का ही वेतन दिया जाएगा, जबकि लिपिक बनने वाले कई कर्मचारी 45 की उम्र पार कर चुके है। उन्होंने सरकार से माग की कि सीमित सीधी भर्ती(एलडीआर) का परिणाम जल्द घोषित करे। तथा लिपिक पद पर चयनित होने वाले इन चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारियों को प्रोबेशन पीरियड में एकमुश्त छूट प्रदान करे, ताकि इनका पौने दो साल वर्ष के इंतजार के बाद मायूसी न हो।

Posted By: Jagran