राज्य ब्यूरो, शिमला : जिला मंडी के पड्डल मैदान में व‌र्ल्ड रेसलिंग इंटरटेनमेंट (डब्ल्यूडब्ल्यूई) के अंतरराष्ट्रीय रेसलर दम दिखाएंगे। सरकार हिमाचल में पहली बार इस तरह की रेसलिंग करवाने जा रही है। इसके लिए डब्ल्यूडब्ल्यूई के जॉन सीना व रैंडी ऑर्टन सरीखे पहलवानों से संपर्क किया जा रहा है। इसे अप्रैल में करवाने की योजना है, जिसके लिए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने भी सहमति दे दी है। डब्ल्यूडब्ल्यूई में अपने दावपेंच का लोहा मनवा चुके हिमाचल के द ग्रेट खली उर्फ दलीप सिंह राणा से चंडीगढ़ में युवा सेवाएं एवं खेल मंत्री गोविंद ठाकुर से बैठक है, जिसमें कार्यक्रम को अंतिम रूप दिया जाएगा। इस रेसलिंग में टिकटों से होने वाली राशि को मुख्यमंत्री राहत कोष में दिया जाएगा। खली रिंग में बिना पैसे लिए अपना दम दिखाने के लिए हामी भर चुके हैं और अपने तैयार किए रेसलरों को भी उतारेंगे।

प्रदेश में पर्यटन और रेसलिंग को बढ़ावा देने के लिए इस तरह का अंतरराष्ट्रीय स्तर का आयोजन किया जा रहा है। विदेशी पहलवानों का खर्च सरकार वहन करेगी। हिमाचल में भी डब्ल्यूडब्ल्यूई की शुरुआत होने की संभावना है। रेसलिंग के दौरान दस के करीब इंटरनेशनल रेसलर्स को बुलाया जाएगा और देश के नामी रेसलर भी हिस्सा लेंगे। खली ने हिमाचल में रेसलिंग की शुरुआत करने के लिए पूरा योगदान करने का आश्वासन दिया है।

लंबे समय बाद खली भी आजमाएंगे हाथ

लंबे समय से रिंग से दूर रहे खली हिमाचल में होने जा रही रेसलिंग में अपना दम दिखाएंगे। अभी तक टीवी पर डब्ल्यूडब्ल्यूई को देखने वालों को हिमाचल में इसका रोमांच देखने को मिलेगा।

आयोजन के खर्च सहित अन्य खाके पर चर्चा

इस आयोजन पर व्यय होने वाली राशि और अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों को बुलाने के संबंध में बुधवार शाम चंडीगढ़ में चर्चा होगी। इस व्यय के लिए आयोजकों को जिम्मा सौंपा जाएगा। टिकट की बिक्री से जो भी राशि एकत्रित होगी उसे मुख्यमंत्री राहत कोष को दान किया जाएगा।

मंडी के पड्डल में डब्ल्यूडब्ल्यूई के आयोजन पर चंडीगढ़ में खली से विस्तार से चर्चा होगी। उनसे फोन पर बात हो चुकी है, जिसमें अंतरराष्ट्रीय पहलवानों को बुलाया जाएगा। आयोजन के दौरान बिकने वाली टिकटों से एकत्र होने वाली राशि मुख्यमंत्री राहत कोष और आयोजन के लिए स्पांसरशिप से आने वाली राशि को आयोजन पर खर्च किया जाएगा।

-गोविंद ठाकुर, युवा सेवा एवं खेल मंत्री

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस