तैयारी

कालेज के प्राचार्यो व फैकल्टी के सदस्यों को शामिल किया जाएगा

उच्चतर शिक्षा परिषद के अध्यक्ष ने दी जानकारी

जागरण संवाददाता, शिमला : राष्ट्रीय शिक्षा नीति लागू करने से पहले शिक्षकों को जागरूक किया जाएगा। इसके लिए उच्च शिक्षा परिषद वेबिनार का आयोजन करेगी। इसमें कालेज के प्राचार्यो व फैकल्टी के सदस्यों को शामिल किया जाएगा। उन्हें राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 के बारे में जागरूक किया जाएगा और वे विद्यार्थियों व उनके अभिभावकों को करेंगे।

उच्च शिक्षा परिषद के अध्यक्ष प्रो. सुनील कुमार गुप्ता ने बताया कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति के बारे में शिक्षकों, छात्रों, अधिकारियों व लोगों को जागरूक करने की आवश्यकता है। यह कार्यक्रम आरकेएमवी, संजौली, सीमा व बिलासपुर कालेज में आयोजित किया गया था। अब अन्य कालेजों में वेबिनार करवाए जाएंगे। नई शिक्षा नीति का व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाएगा ताकि छात्रों और शिक्षकों में किसी तरह की आशंका न हो।

रूसा ग्रांट खर्च करने के लिए प्रशासनिक मंजूरी जरूरी

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग ने प्रदेश के सभी कालेजों को रूसा ग्रांट खर्च करने के लिए नए दिशानिर्देश जारी किए हैं। इसमें कहा गया है कि रूसा के तहत ग्रांट खर्च करने के लिए प्रशासनिक मंजूरी लेना जरूरी है। अगली ग्रांट कालेजों को तभी जारी होगी जब पिछली ग्रांट के खर्च का ब्योरा (यूटेलाइजेशन सर्टिफिकेट) दिया जाएगा। यूसी के आधार पर ही कालेजों को अगली ग्रांट जारी होगी। निदेशक उच्च शिक्षा विभाग अमरजीत शर्मा ने इस बारे में आदेश जारी कर दिए हैं।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस