जागरण संवाददाता, शिमला : शिमला संजौली स्थित लक्ष्मी नारायण मंदिर के हाल में शिमला जिला के टैक्सी ऑपरेटर्स यूनियन की बैठक हुई। बैठक में सरकार द्वारा टैक्सी सेवा के लिए तय किए गए नियमों पर विस्तृत चर्चा की गई। इस दौरान सरकार द्वारा तय किए गए कुछ नियमों के विषयों को लेकर फेरबदल करने की माग भी रखी गई है।

पंडित जीतराम शर्मा की अध्यक्षता में आयोजित इस बैठक में सरकार द्वारा मीटर लगवाने की प्रणाली में निर्धारित मूल्य न मिल पाने के कारण उस फैसले को स्थगित करने का आग्रह किया गया। पंडित जीत राम ने कहा कि यात्री व टोकन टैक्स को एक ही खिड़की पर जमा करवाए जाने के प्रावधान पर भी विचार किया जाना चाहिए ताकि असुविधा न हो और समय भी बच जाए। सदस्यों ने सरकार से माग की है कि टैक्सी रूट टेंडर पंजीकृत यूनियनों को दिया जाए और गाड़ियों पर लगने वाले ग्रीन टैक्स को भी समाप्त कर दिया जाए। यूनियन द्वारा रखी गई मागों का सभी सदस्यों ने स्वागत किया। स्कूल टैक्सी यूनियन के प्रधान राकेश चौहान तथा अन्य पदाधिकारियों राजपाल, प्रकाश बंसल, श्याम कुमार, जोगिंदर ठाकुर, नरेंद्र चंदेल, हुकुम चंद, अनिल, चुनीलाल, राजेश ठाकुर, अनिल तनवर व राजेश कश्यप आदि द्वारा समर्थन दिया गया ।

Posted By: Jagran