राज्य ब्यूरो, शिमला : हिमाचल में सबल भारत अभियान बेहतर ढंग से लागू करने के लिए शिक्षकों को इसका पाठ पढ़ाया जाएगा। बाद में शिक्षक स्कूल में जाकर विद्यार्थियों को सबल भारत अभियान के तहत दी जाने वाले छात्रवृत्तियों के प्रति जागरूक करेंगे। इस संबंध में प्रदेश के सभी स्कूलों से एक-एक शिक्षक को कार्यशाला में हिस्सा लेने के लिए बुलाया गया है।

राज्य सरकार ने शुक्रवार को सबल भारत अभियान को लेकर होने वाली कार्यशाला का शेडयूल जारी किया। कार्यशाला में शिक्षकों को इस अभियान के तहत किए जाने वाले कार्यो से अवगत करवाया जाएगा। सरकार ने सबल भारत संस्था के साथ एमओयू साइन किया है। सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्रालय इस अभियान के लिए बजट मुहैया करवाएगा। अभियान के तहत विद्यार्थियों को छात्रवृत्ति दी जाएगी। इसके लिए उन्हें सामान्य ज्ञान का टेस्ट पास करना होगा। छात्रवृत्ति प्राप्त करने के लिए टेस्ट में 40 फीसद अंक लेने होंगे। इसके बाद विद्यार्थी जिस स्कूल में प्रवेश लेना चाहेगा, उसे सबल भारत अभियान के तहत छात्रवृत्ति के रूप में पूरी फीस का भुगतान किया जाएगा। छात्रवृत्ति परीक्षा में पहली कक्षा से लेकर विश्वविद्यालय में पढ़ने वाले विद्यार्थी हिस्सा ले सकते हैं। योजना के तहत विभिन्न श्रेणियों के लिए छात्रवृत्ति की सुविधा है। अभियान को सबल भारत संस्था के माध्यम से अन्य 14 राज्यों में शुरू किया जा चुका है। कहां होगी कार्यशाला

जिला,तारीख,स्थान

शिमला,17 सितंबर,राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक (कन्या) स्कूल पोर्टमोर

सिरमौर,18 सितंबर,डाईट सिरमौर

सोलन,19 सितंबर,राजकीय संस्कृत कॉलेज सोलन

मंडी,20 सितंबर,राजकीय महाविद्यालय मंडी

कुल्लू,22 सिंतबर,राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक स्कूल (बाल) कुल्लू

लाहुल स्पीति,22 सितंबर,राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक स्कूल (बाल) कुल्लू

बिलासपुर,23 सितंबर,राजकीय महाविद्यालय बिलासपुर

कांगड़ा,24 सितंबर,राजकीय महाविद्यालय धर्मशाला

ऊना,25 सितंबर,राजकीय महाविद्यालय ऊना

हमीरपुर,26 सितंबर,डाईट हमीरपुर

चंबा,28 सितंबर,राजकीय महाविद्यालय चंबा

किन्नौर,30 सितंबर,डाईट किन्नौर

Posted By: Jagran