शिमला, जेएनएन। पूर्व गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे शिमला पहुंचे और उन्होंने केन्द्र की मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला। शिंदे ने शिमला में कहा कि कांग्रेस लोकतंत्र में विश्वास रखने वाली पार्टी है। भाजपा मोदी सरकार के तीन साल हो गए कांग्रेस ने कोई टीका टिप्पणी नही की। लेकिन तीन साल बाद मोदी कह रहे है जो वायदे जनता से किए वह पूरे किए लेकिन सच्चाई कुछ और ही है। मोदी ने वायदा किया था कि सत्ता में आने के बाद देश का काला पैसा निकालेंगे ओर जनता के खाते में डालेंगे। ऐसा तो कुछ नही हुआ। उल्टा नोटबंदी का फैसला कर जनता को सड़कों पर लाइन में खड़ा कर दिया।

उसके बावजूद आज तक प्रधानमंत्री ये नही बता पाए कि कितना पैसा बैंकों में आया और इससे क्या फायदा हुआ। देश की अर्थव्यवस्था फो फीसदी घट गई है। किसान को झूठा आश्वाशन दिए कि पैदावार बढ़ाओ समर्थन  मूल्य बढ़ाएंगे उसकेबाद किसानों ने पैदावार तो बधाई लेकिन किसान आज भी मर रहा है। किसान महाराष्ट से मध्यप्रदेश तक आंदोलन की राह में है सरकार चुप है। युवा बेरोजगार बढ़ रहे नोकरियो की कमी  दर्ज की जा रही है। शिक्षा के क्षेत्र में कुछ खास नही किया। यूपीए सरकार की योजनाओं के उदघाटन कर ओर नाम बदलकर श्रेय लेने की कोशिश मोदी सरकार कर रही है। 

देश की सुरक्षा खतरे में है सैनिक मारे जा रहे है। सीमाओं की चौकियों पर आतंकी हमले हो रहे है। आतंकवाद को खत्म करने की बात भी झूठी निकली हर रोज देश पर हमले हो रहे है। लेकिन सर्जिकल स्ट्राइक के नाम पर वाह वाही लूटी जा रही है। कांग्रेस सरकार में वह जब गृह मंत्री थे तो देश में कई कड़े कदम उठाए गए लेकिन उन चीजों को बढ़ा चढ़ा कर जनता के सामने पेश नही किया।

इन्दिरा गांधी ने राजनीतिक सूझबूझ से बंगला देश खड़ा कर दिया। बाबजूद इसके इंदिरा ने पाकिस्तान के साथ बातचीत जारी रखी। यहां तक कि शिमला समझौता भी इसी कड़ी का एक अंग था। आज पाक , चीन व नेपाल जैसे देश हमारे दुश्मन बनते जा रहे है। सरकार कोई ठोस कदम नही उठा पा रही है।

यह भी पढ़ें:  धूमल ने एनएच अथॉरिटी के कामों पर मांगी जांच

Posted By: Babita Kashyap