शिमला, राज्य ब्यूरो। विधायक अपनी आय और संपत्ति का ब्योरा दें, उसे विधानसभा की वेबसाइट पर डाला जाए। इस तरह की व्यवस्था के लिए इसी सत्र में संकल्प लाया जाएगा। इसके लिए विपक्ष तो तैयार है, लेकिन सत्ता पक्ष की तरफ से आनाकानी की जा रही है। कांग्रेस के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष एवं नादौन के विधायक सुखविंदर सिंह सुक्खू ने विधानसभा में भोजनावकाश के दौरान कहा कि नेताओं को भी अपने जीवन में पारदर्शिता लानी चाहिए। इसलिए सभी विधानसभा के सदस्यों की आय-व्यय का लेखा-जोखा वेबसाइट में डाला जाना चाहिए। इसी सत्र में 29 अगस्त को संकल्प लाया जाएगा। इसके लिए विधानसभा अध्यक्ष डॉ. राजीव बिंदल से चर्चा हो रही है और उन्हें मनाया जा रहा है।

सुक्खू ने कहा कि विधानसभा सदस्य यानी विधायक हर वर्ष अपनी आय व संपत्ति का ब्योरा वेबसाइट में डाले, ताकि जन प्रतिनिधियों के बारे में सब लोग जान सकें ओर लोगों की धारणा बदल सके। विपक्ष इसको लेकर नियम बनाने की बात कह रहा है, लेकिन सत्ता पक्ष अभी इसको लेकर संकल्प लाने को तैयार नहीं है। इसके लिए नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री से भी बात हुई है। वह विधानसभा अध्यक्ष के पास गए थे। पत्रकार वार्ता के दौरान नयनादेवी के विधायक रामलाल ठाकुर भी मौजूद थे। 
सत्ता पक्ष की लॉज में की पत्रकार वार्ता
विधानसभा में सुखविंदर सिं‍ह सुक्खू ने सत्ता पक्ष की लॉज में पत्रकार वार्ता की। हालांकि विपक्षी लॉज में कोई कार्यक्रम प्रस्तावित नहीं था। सुक्खू न तो विपक्ष के नेता हैं और न ही अब प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष इसलिए सत्ता पक्ष के लॉज में पत्रकार वार्ता पर चर्चा हो रही है। हालांकि इस दौरान कुछ ने तो यहां तक कहा कि कहीं भाजपा में शामिल तो नहीं हो रहे।
 

 हिमाचल की अन्य खबरें पढऩे के लिए यहां क्लिक करें 

 

Posted By: Babita kashyap

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस