शिमला, जागरण संवाददाता : राजधानी शिमला में मंगलवार रात से हल्की वर्षा व हिमपात से ठंड बढ़ गई है। बुधवार सुबह ऊपरी शिमला में हल्का हिमपात हुआ। इस कारण यातायात कुछ समय के लिए प्रभावित हुआ। रुक-रुक कर हिमपात से सड़क पर फिसलन बढ़ गई है। कई मार्गों को वाहनों की आवाजाही के लिए बंद कर दिया गया है। शिमला शहर में बुधवार सुबह हल्की वर्षा व तेज हवा चली।

हिमपात के दौरान आपात स्थिति होने पर इस नंबर पर संपर्क कर सकते हैं 

हालांकि वाहनों की आवाजाही सुचारू रही। उपायुक्त आदित्य नेगी ने सभी फील्ड स्टाफ को सतर्क रहने को कहा है। उन्होंने कहा कि हिमपात से निपटने के लिए प्रशासन ने पहले ही सारी तैयारी की है। सड़क पर फिसलन के मद्देनजर शिमला पुलिस ने सैलानियों और स्थानीय लोगों के लिए यात्रा से संबंधित एडवाइजरी जारी की है। पुलिस का कहना है कि हिमपात के बाद अन्य राज्यों से भारी संख्या में पर्यटक शिमला पहुंचते हैं। वे बर्फ देखने के लिए नारकंडा व कुफरी की तरफ जाते हैं। हिमपात से सड़क पर फिसलन होने से वाहनों के फंसने व दुर्घटनाग्रस्त होने का खतरा रहता है। पुलिस ने हिमपात के दौरान आपात स्थिति होने पर दूरभाष नंबर 01772812344 पर सहायता मांगने की सलाह दी है।

हिमपात होने से चौपाल-शिमला मुख्य मार्ग के साथ कई संपर्क मार्ग बंद

हिमपात के कारण चौपाल-शिमला मार्ग पर यातायात बंद है। इस मार्ग पर वाहन फंस रहे हैं। चौपाल क्षेत्र में जिन ग्रामीण क्षेत्रों में निगम की बसें गई थीं, वे वहीं फंसी हैं। चौपाल क्षेत्र में विभिन्न संपर्क मार्ग पौड़ीया, खिड़की-मड़ोग, पुजारली-माटल, सरांह, चौपाल-झिन्ना, झोखड, पुलबाहल सहित 12 से अधिक संपर्क मार्गों पर यातायात ठप है। लोक निर्माण विभाग के कर्मचारी सड़कें खोलने में जुटे हुए हैं। एसडीएम चेत सिंह ने कहा कि यातायात सामान्य बनाने के लिए जेसीबी मशीन, डोजर, टिप्पर व पर्याप्त मात्रा में मजदूरों की तैनाती की गई है। सभी मार्गों को बहाल करने का कार्य शुरू कर दिया गया है। उन्होंने जनता को एडवाइजरी जारी की है कि बेवजह कोई भी वाहन न चलाएं।

इन सड़कों पर संभल कर चलाएं वाहन

खिड़की के पास ठियोग-चौपाल मार्ग हिमपात के कारण बंद है। खड़ापत्थर के पास ठियोग-रोहड़ू मार्ग पर हिमपात की वजह से फिसलन है। नारकंडा के पास ठियोग-रामपुर मार्ग पर फिसलन है। कुफरी गलू फागु के पास शिमला-ठियोग मार्ग पर फिसलन है। पुलिस ने सलाह दी है कि इन सड़कों पर वाहन संभल कर चलाएं।

Edited By: Nidhi Vinodiya

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट