राज्य ब्यूरो, शिमला : हिमाचल प्रदेश के पूर्ण राज्यत्व स्वर्ण जयंती समारोह की कड़ी में प्रदेश विधानसभा का विशेष सत्र 17 सितंबर को होगा। एक दिन के इस विशेष सत्र को राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द संबोधित करेंगे। राष्ट्रपति सपरिवार 16 सितंबर को शिमला स्थित राष्ट्रपति निवास पहुंचेंगे और 20 सितंबर तक यहीं पर रुकेंगे। विशेष सत्र में विधानसभा के सभी वर्तमान सदस्यों के साथ पूर्व सदस्यों को भी आमंत्रित किया जाएगा। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर, नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री, प्रदेश के सभी कैबिनेट मंत्री भी विशेष सत्र में उपस्थित रहेंगे। यह जानकारी विधानसभा अध्यक्ष विपिन सिंह परमार ने वीरवार को शिमला में पत्रकारों को दी।

उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश इस साल पूर्ण राज्यत्व की स्वर्ण जयंती मना रहा है। स्वर्ण जयंती वर्ष में प्रदेश के विकास को दर्शाते 51 कार्यक्रमों के आयोजन की सरकार की योजना है। हालांकि कोरोना महामारी की वजह से कार्यक्रमों में विलंब हुआ है। इसी कड़ी में प्रदेश विधानसभा का विशेष सत्र आयोजित किया जा रहा है। सत्र में भी प्रदेश की विकास यात्रा का उल्लेख होगा। इस दौरान आयोजित किए जाने वाले कार्यक्रमों का खाका अभी खींचा जाना है।

उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द 16 से 20 सितंबर तक शिमला प्रवास पर रहेंगे। प्रवास के दूसरे दिन 17 सितंबर को 11 बजे विधानसभा के विशेष सत्र को संबोधित करेंगे। विधानसभा को संबोधित करने वाले वह देश के तीसरे राष्ट्रपति होंगे। इससे पहले 23 दिसंबर 2004 को स्व. राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम ने हिमाचल विधानसभा के विशेष सत्र को संबोधित किया था। उनके बाद मई 2013 में स्व. राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने हिमाचल विधानसभा को संबोधित किया था। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने राष्ट्रपति कोविन्द से विशेष सत्र को संबोधित करने का आग्रह किया था, जिसे उन्होंने स्वीकार कर लिया है।

Edited By: Jagran