जागरण टीम, शिमला : भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने सोमवार को डा. राधाकृष्णन राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय हमीरपुर और बिलासपुर जिले के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र घुमारवीं में केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर के सहयोग से लगाए जा रहे आक्सीजन प्लांट का आनलाइन शिलान्यास किया। इस दौरान हिमाचल के लिए कोरोना राहत सामग्री को रवाना भी किया। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सुरेश कश्यप भी उपस्थित थे।

नड्डा ने कहा कि जब अधिकांश राष्ट्रीय राजनीतिक दल वर्चुअल क्वारंटाइन में थे, तब भाजपा 'सेवा ही संगठन' के माध्यम से महामारी से लड़ने और आम जनता की पीड़ा को कम करने के लिए आगे आई। नड्डा ने कहा कि कोरोना मानव इतिहास की सबसे बड़ी त्रासदी बनकर आई है। इसके बावजूद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार ने 130 करोड़ देशवासियों को साथ में लेते हुए पूरी ताकत से लड़ाई लड़ी है। इस साल के अंत तक वैक्सीनेशन की पूर्ण व्यवस्था हो जाएगी। केंद्र सरकार ने एक ही सप्ताह में देश में आक्सीजन की दिक्कत को खत्म कर दिया।

नड्डा ने कहा कि हिमाचल में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के नेतृत्व में कोरोना को रोकने के लिए बेहतर काम हो रहा है। प्रदेश में अब तक लगभग 19 लाख लोगों की टेस्टिंग हुई है। नड्डा ने अनुराग ठाकुर की लगन और मेहनत की भरपूर सराहना की।

--------------------------

यह राहत सामग्री भेजी

कोरोना राहत सामग्री में आठ आक्सीजन कंसंट्रेटर, 105 आक्सीजन सिलेंडर, 200 आक्सीजन रेगुलेटर, 400 मास्क, 200 एनआरएम मास्क, 200 फेस शील्ड, 200 पल्स आक्सीमीटर, 50 थर्मल स्कैनर, 3500 पीपीई किट, 3000 एन95 मास्क और 500 सैनिटाइजर भेजे, जो आक्सीजन कंसंट्रेटर भेजे गए हैं, उसकी क्षमता पांच, आठ व 10 लीटर की है।

---------------------

रिकवरी दर अब 89.3 फीसद : जयराम

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि 23 फरवरी तक हिमाचल में कोरोना के केवल 200 सक्रिय मामले थे। इसके बाद दूसरी लहर ने प्रभावित किया। सौभाग्यवश प्रदेश की रिकवरी दर अब 89.3 फीसद है। इसमें पिछले कुछ दिनों में सुधार देखा गया है। प्रदेश सरकार ने तुरंत ही आठ आरटी-पीसीआर, 25 ट्रूनेट व दो सीबीनैट प्रयोगशालाएं स्थापित की हैं। ------------------

देश में आज होता है प्रतिदिन 20 लाख पीपीई किट का उत्पादन : अनुराग

अनुराग ठाकुर ने कहा कि कोरोना के शुरुआती समय में देश में एक भी पीपीई किट का उत्पादन नहीं होता था। जबकि आज देश में प्रतिदिन 20 लाख पीपीई किट का उत्पादन हो रहा है। हिमाचल में स्थापित होने वाले आक्सीजन बैंक से 700 बिस्तरों को आक्सीजन आपूर्ति सुनिश्चित होगी। इसके लिए नड्डा 108 आक्सीजन कंसंट्रेटरों व 160 आक्सीजन सिलेंडरों की पहली खेप रवाना करेंगे।

Edited By: Jagran