शिमला, अनिल ठाकुर। कर्मचारी भविष्य निधि (Employee provident fund) और पेंशन अंशदान जमा न करवाने पर शिमला के करीब 98 होटलों के खिलाफ जांच शुरु हो गई है। होटल प्रबंधकों ने दो से छह माह से कर्मचारियों का ईपीएफ और पेंशन अंशदान जमा नहीं करवाया है। ईपीएफओ क्षेत्रीय कार्यालय शिमला ने इन होटलों को पहले नोटिस जारी कर तय समय के भीतर कर्मचारियों का ईपीएफ और पेंशन अंशदान जमा करवाने के निर्देश दिए थे। बावजूद इसके होटल प्रबंधकों ने इस राशि को जमा नहीं करवाया। इसके बाद इनके खिलाफ जांच शुरू कर इनके सारे रिकॉर्ड को खंगाला जा रहा है।

जांच की जा रही है कि जिन अकाउंट में पैसा जमा नहीं हो रहा है क्या वे कर्मचारी होटल में कार्यरत हैं या नौकरी छोड़ चुके हैं। यदि कार्यरत हैं तो क्यों इनका पैसा जमा नहीं हो रहा है। कुछ होटल ऐसे भी हैं जो नियमित रूप से इसकी अदायगी नहीं कर रहे हैं। तीन से चार महीनों के बाद इस पैसे को जमा करवाया जा रहा है। जांच पूरी होने के बाद इनके खिलाफ आगामी कार्रवाई की जाएगी।

ब्याज के साथ करनी होगी अदायगी

ईपीएफओ के अधिकारियों की मानें तो यदि कर्मचारी होटल में कार्यरत हैं और उनका पैसा जमा नहीं हो रहा है तो उसकी अदायगी नियमित रूप से करनी होगी। इसमें देरी पर कंपनी को  ब्याज देना पड़ेगा। ब्याज की अधिकतम दर 100 फीसद है। क्षेत्रीय आयुक्त ईपीएफओ शिमला सुदर्शन कुमार ने कहा कि शिमला के करीब 98 होटलों ने काफी समय से कर्मचारियों का ईपीएफ जमा नहीं करवाया है। इसके खिलाफ जांच शुरू कर दी गई है। जांच पूरी होने के बाद इनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। यदि होटल प्रबंधक पैसा तय समय पर जमा नहीं करवाते हैं तो इनके बैंक अकाउंट को सील कर इस राशि को ब्याज सहित वसूला जाएगा।

 नियुक्ति तिथि से दिए जाएं वरिष्ठता लाभ

हिमाचल अनुबंध नियमित कर्मचारी संगठन का प्रतिनिधिमंडल प्रदेशाध्यक्ष मनीष गर्ग की अध्यक्षता में मुख्यमंत्री से मिला। प्रतिनिधिमंडल ने नियुक्ति तिथि से वरिष्ठता व अनुबंध काल को कुल सेवाकाल में जोड़ने की मांग उठाई। इस मौके पर प्रतिनिधिमंडल में कांगड़ा जिला इकाई अध्यक्ष सुनील पराशर, कपिल डोगरा व अन्य मौजूद रहे। मुख्यमंत्री ने सभी मांगों को विचारपूर्वक सुना और आश्वासन भी दिया। 

हिमाचल की अन्य खबरें पढऩे के लिए यहां क्लिक करें 

दिसंबर में है घूमने का प्लान, तो मन मोह लेगी ओडिशा की ये वादियां

 

Posted By: Babita kashyap

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस