शिमला, राज्य ब्यूरो। अब पंडित सुखराम और वीरभद्र्र सिंह का दौर खत्म हो गया है। यह बात उन्हें समझ लेनी चाहिए और सोच समझकर ही बयानबाजी करनी चाहिए। जनता ने उनके पक्ष में वोट न कर उन्हें नकार दिया है। लोकसभा चुनाव में दिए जनादेश का सभी को सम्मान करना चाहिए। यह बात मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने शुक्रवार को शिमला में पत्रकारों से बातचीत के दौरान कही। उन्होंने कहा कि पूरे देश में हिमाचल में भाजपा को सबसे अधिक 69 फीसद मत प्रतिशत मिला है, जबकि कांग्रेस को मात्र 27 फीसद वोट शेयर मिला। भाजपा की लीड को देखा जाए तो आजतक के इतिहास में प्रदेश का कोई मुख्यमंत्री ऐसी करिश्मा नहीं कर पाया है।

जयराम ने भाजपा की प्रचंड जीत का श्रेय प्रदेश की जागरूक जनता को दिया, जिसने आज तक के इतिहास में कांग्रेस को सबसे करारी हार दी है। उन्होंने कहा कि अपने डेढ़ वर्ष के कार्यकाल में उन्होंने कम बोला और अधिक सुना है। एक सवाल पर उन्होंने कहा, ‘राजनीति में मैं ही काफी हूं, पत्नी डॉ. साधना डॉक्टरी ही करेंगी।’ मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के सभी 68 विधानसभा क्षेत्रों में भाजपा को लीड मिली। मोदी ने पांच साल तक महिलाओं, गरीबों, पिछड़े वर्गों, किसानों व समाज के उपेक्षित वर्ग के कल्याण के लिए अनेक योजनाएं लागू की। वहीं कांग्रेस पार्टी के करीब छह दशक के कार्यकाल में कुछ नहीं हो पाया। 

तीस हलकों में तीस हजार की लीड मिली

सीएम ने कहा कि प्रदेश में 30 विधानसभा क्षेत्र ऐसे हैं जहां पर भाजपा को 30 हजार से अधिक मतों की लीड मिली है। रोहड़ू और रामपुर कांग्रेस के गढ़ रहे हैं और वहां से आजतक भाजपा को कभी बढ़त नहीं मिली, लेकिन इस बार भाजपा ने बाजी पलट दी। यह जीत केंद्र सरकार की नीतियों एवं कार्यक्रमों पर लोगों की आस्था को दर्शाती है। भाजपा सरकार भविष्य में और अधिक निष्ठा व समर्पण की भावना से कार्य कर लोगों की अपेक्षाओं एवं आकांक्षाओं पर खरा उतरेगी।

जरूरत होगी तो भरे जाएंगे मंत्री पद

जयराम ने कहा कि उनकी कैबिनेट में दो मंत्री पद खाली हो गए हैं। जब जरूरत होगी तब मंत्री पद भरे जाएंगे। अनिल शर्मा तकनीकी तौर पर भाजपा के विधायक हैं। बेटे कांग्रेस प्रत्याशी आश्रय शर्मा के पक्ष  में उनके किए प्रचार के संबंध में रिपोर्ट मांगी गई है। उसके बाद उसके बाद कार्रवाई की जाएगी।

 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप