राज्य ब्यूरो, शिमला : मंडी जिला के गोहर में स्कूल स्तर की जिलास्तरीय खेल प्रतियोगिता में भाग लेने गए एक खिलाड़ी की मौत के बाद शिक्षा विभाग को खिलाड़ियों की सुरक्षा याद आई है। उच्च शिक्षा विभाग ने सोमवार को सभी शिक्षा उपनिदेशकों सहित स्कूल प्रिंसिपलों व मुख्याध्यापकों खेल प्रतियोगिता के दौरान खिलाड़ियों की सुरक्षा के लिए निर्देश जारी किए हैं।

उच्च शिक्षा निदेशालय के निदेशक डॉ. अमरजीत कुमार शर्मा द्वारा जारी निर्देशों में कहा गया है कि जिस स्कूल के पास नदी, नाला या खड्ड होगी, वहां पर खंड, जिला या राज्यस्तरीय खेल प्रतियोगिता का आयोजन नहीं करवाया जाएगा। स्कूल स्तर की खेल प्रतियोगिता के दौरान जाने वाली टीम के साथ कम से कम दो शिक्षकों की ड्यूटी लगाई जाएगी। इन शिक्षकों पर स्कूल स्तर की टीम के खिलाड़ियों की जिम्मेदारी होगी। खेल प्रतियोगिता में भाग लेने जा रही लड़कियों की टीम के साथ एक महिला शिक्षक भी जाएगी। जिस स्कूल में खेल प्रतियोगिता का आयोजन होगा, खिलाड़ियों की सुरक्षा की जिम्मेदारी भी वहां के पि्रंसिपल और अध्यापकों पर होगी। ऐसे स्कूल के शिक्षकों और स्टाफ की ड्यूटियां भी सुरक्षा के लिए लगाई जाएंगी। हैरानी की बात यह है कि स्कूल स्तर की खेल प्रतियोगिता में भाग लेने के जाने वाली टीम के साथ दो शिक्षकों के साथ जाने की व्यवस्था पहले से है। शिक्षा विभाग द्वारा जारी निर्देशों में भी इसका जिक्र है कि टीम के साथ दो शिक्षकों को साथ भेजने की अधिसूचना पहले से जारी की गई है।

Posted By: Jagran