शिमला, राज्य ब्यूरो। विधानसभा का मानसून सत्र 20 अगस्त से संभावित है। इस सत्र के दौरान नौ बैठकें संभावित हैं। विधानसभा के सत्र पर निर्णय 24 जुलाई को प्रदेश मंत्रिमंडल की बैठक में लिया जाएगा। मानसून सत्र को लेकर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर का कहना है कि यह सत्र लंबा हो सकता है। सत्र अगले महीने के अंतिम सप्ताह में शुरू हो सकता है। जिस पर निर्णय मंत्रिमंडल की बैठक में लिया जाएगा।

भाजपा की राष्ट्रीय कार्य समिति की बैठक 17 से 19 अगस्त तक होने वाली है। इसके चलते सत्र उसके बाद ही शुरू होगा। वर्तमान भाजपा सरकार के पहले वर्ष में यह तीसरा सत्र होगा। इससे पहले चुनकर आए सदस्यों के लिए शपथ ग्रहण सत्र धर्मशाला में आयोजित हुआ था।

उसके बाद सरकार का पहला बजट सत्र  हो चुका है। शपथ ग्रहण सत्र के दौरान चार बैठकें हुई थी। इसमें सदस्यों द्वारा शपथ लेने के बाद परिचय तक सीमित था। सरकार का पहला बजट सत्र 17 बैठकों का था। उसके बाद प्रदेश में कई तरह के घटनाक्रम हुए। ऐसे में राजनीतिक दृष्टि से मानसून सत्र में हंगामें के आसार हैं।

अभी तक विधानसभा की 21 बैठकें हो चुकी हैं। यदि मानसून सत्र में नौ बैठकें आयोजित होती हैं तो इस वर्ष के अंत में शीतकालीन सत्र के दौरान चार या पांच बैठकें हो सकती हैं। इससे पूर्व विधानसभा सचिवालय की ओर से सरकार को मानसून सत्र की 10 बैठकें आयोजित करने का प्रस्ताव किया गया था। सामान्य प्रशासन विभाग को प्राप्त प्रस्ताव मंजूरी के लिए मंत्रिमंडल की बैठक में पेश होगा ।

Posted By: Babita

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप