राज्य ब्यूरो, शिमला : दिल्ली निजामुद्दीन में तब्लीगी जमात की मरकज में हिमाचल के 17 लोगों के नाम सामने आने के बाद मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि ऐसा कोई व्यक्ति प्रदेश में प्रवेश नहीं कर पाए जो ऐसे कार्यक्रम में शामिल हुआ हो।

शिमला स्थित मुख्यमंत्री निवास ओक ओवर में मंगलवार को हुई बैठक में उन्होंने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति का जीवन सुरक्षित रखना सरकार का दायित्व है। अतिरिक्त मुख्य सचिव स्वास्थ्य एवं कार्मिक आरडी धीमान ने कहा कि प्रदेश के 17 लोग को दिल्ली सरकार ने 14 दिन के लिए निगरानी में रखा है। केंद्र सरकार ने सीआरआइ कसौली में कोरोना के टेस्ट करने की मंजूरी दी है। इस प्रयोगशाला में शीघ्र ही जाच की सुविधा शुरू होगी।

सभी राज्यों में मदद के लिए नंबर जारी

राज्य सरकार की ओर से देश के सभी राज्यों में रहने वाले हिमाचली लोगों की सहायता के लिए फोन नंबर जारी किए गए हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस