मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

शिमला, राज्य ब्यूरो। भारतीय उच्च अध्ययन संस्थान (एडवांस स्टडीज) शिमला से बेशकीमती घंटा चोरी होने मामले की सीबीआइ जांच अब बंद हो गई है। सूत्रों के अनुसार इकोनोमिक ऑफेंस यूनिट की क्लोजर रिपोर्ट को ट्रायल कोर्ट से स्वीकार कर लिया है। यही यूनिट आजकल आइएनएक्स मीडिया मामले में पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री पी चिदंबरम की जांच कर रही है।

घंटा केस की जांच इंस्पेक्टर रैंक के एक अधिकारी ने की थी। देश की सर्वोच्च जांच एजेंसी आरोपितों का कोई भी सुराग नहीं लगा पाई। इससे सीबीआइ की साख पर भी सवाल उठ रहे हैं। सुरक्षा के बावजूद घंटा चोरी होने से यहां के सुरक्षाकर्मी संदेह के दायरे में रहे हैं। शिमला के बालूगंज थाना में 22 अप्रैल 2010 को चोरी की रिपोर्ट दर्ज की गई थी। इसके बाद पुलिस ने काफी हाथ-पांव मारे, लेकिन कोई सुराग नहीं लग पाया था। अनट्रेस रिपोर्ट तैयार करने के बाद मामला बंद करने के लिए न्यायिक दंडाधिकारी शिमला के समक्ष आवेदन किया। लेकिन संस्थान ने इसका विरोध किया और दोबारा जांच की मांग की। पुलिस जांच क्लोजर रिपोर्ट से असंतुष्ट संस्थान ने इस मामले की जांच सीबीआइ से करवाने की मांग की।

नेपाल के राजा ने दिया था तोहफा एडवांस स्टडीज में लगाया गया बेशकीमती घंटा नेपाल के राजा ने तोहफे में दिया था। 1903 में 30 किलोग्राम का दुर्लभ धातु राइसपुलर से बना घंटा नेपाल के राजा ने तत्कालीन वायसराय को भेंट के तौर पर दिया था। 21 अप्रैल 2010 की रात को यह चोरी हो गया। इस घंटे की कीमत अरबों में आंकी गई थी।

मशरूम सिटी ऑफ इंडिया' सोलन, 22 साल पहले क्‍यों मिला ये दर्जा; पढ़ें पूरी खबर

सीबीआइ को सौंपी थी जांच

पुलिस सात दिसंबर 2013 तक चोरों का सुराग नहीं लगा पाई थी। पुलिस ने अनट्रेस रिपोर्ट तैयार की। संस्थान ने इस पर आपत्ति जताई और क्लोजर रिपोर्ट से अंसतुष्ट होते हुए मामले की जांच सीबीआइ से करवाने के लिए हिमाचल हाईकोर्ट में याचिका दायर की। एक अक्टूबर 2015 में हाईकोर्ट ने सीबीआइ को सौंपी थी। दिल्ली यूनिट से टीमें शिमला आईं। शक के आधार पर कई लोगों से पूछताछ की। जांच एजेंसी ने सुराग देने वालों को एक लाख रुपये इनाम देने की भी घोषणा की थी, लेकिन इससे भी पुख्ता सूचना नहीं मिल पाई। घंटे का पता लगाने में नाकाम रहने पर पुलिस की तर्ज पर सीबीआइ ने भी क्लोजर रिपोर्ट ट्रायल कोर्ट शिमला में पेश की जिसे स्वीकार कर लिया गया।

गुणों की खान है लसोड़ा, फायदे जानकर चौंक जाएंगे आप

 

Posted By: Babita kashyap

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप