शिमला, राज्य ब्यूरो। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर का कहना है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल एंड कंपनी ने आठ साल के सत्ताकाल में दिल्ली में भ्रष्टाचार को बढ़ावा दिया है। नगर निगम दिल्ली के लिए हो रहे चुनाव में प्रचार करने के लिए गए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने दो वार्ड 217 व 193 में भाजपा प्रत्याशियों के लिए समर्थन मांगा। इन दो वार्ड में आयोजित जनसभाओं को संबोधित करते हुए कहा कि केजरीवाल सरकार ने भ्रष्टाचार की सभी सीमाएं लांघ दी है। तभी उनके बड़े नेता जेल की सलाखों के पीछे बैठे हैं। उनका कहना था कि केजरीवाल ने भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाने के लिए राजनीतिक पार्टी का गठन किया था। उन्होंने कहा कि दिल्ली में ही नहीं पंजाब में भी केजरीवाल की पार्टी भ्रष्टाचार का पर्याय बन चुकी है। यहां पर कानून व्यवथा पूरी तरह से फेल हो चुकी ह

केजरीवाल की पार्टी आई मगर पहाड़ पर चढ़ने से पहले ही हांफ गई

हिमाचल प्रदेश के विधानसभा चुनाव में एक मौका मांगने के वादे के साथ केजरीवाल की पार्टी आई मगर पहाड़ पर चढ़ने से पहले ही हांफ गई। उन्होंने नगर निगम चुनाव में वार्ड नंबर 217 से चुनाव लड़ रही स्मारिका शर्मा झा और वार्ड नंबर 193 से प्रत्याशी मुनीष डेढा के लिए जनता से वोट मांगे और जीत दिलाने की अपील की। उन्होंने केजरीवाल पर निशाना साधते हुए कहा कि डेढ दशक से नगर निगम दिल्ली भाजपा के पास है मगर केजरीवाल सरकार दिल्ली की सत्ता पर काबिज होने के कारण केंद्र सरकार से मिलने वाले बजट का उपयोग नहीं होने दे रहे।

इतना झूठ मत बोलो

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि मैं अरविंद केजरीवाल के वे स्कूल ढृंढ रहा हूं, जिसका हिमाचल प्रदेश आकर ढिंढोरा पीटते थे कि दिल्ली के सरकारी स्कूल देखिये। उन्होंने कहा कि मुझे कहीं पर भी नए शिक्षण संस्थान नहीं मिले। केजरीवाल को सलाह दी कि इतना भी झूठ मत बोलिए, यदि शिक्षण संस्थान देखने हैं तो हिमाचल आइये।

ये भी पढ़ें:हिमाचल के डीजीपी का नशा करने वालों को संदेश, जेलों में बहुत ठंड है

Edited By: Richa Rana

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट