शिमला, जेएनएन। पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह व प्रेम कुमार धूमल के बीच चल रहे मानहानि के मामले में प्रदेश हाईकोर्ट में सुनवाई नौ सितंबर के लिए टल गई। कोर्ट ने मामले की सुनवाई के दौरान कहा कि अगर दोनों पक्षों में समझौते की गुंजाइश है तो उनसे आशा की जाती है कि वे आपस में कारगर कदम उठाते हुए इस संबंध में संभावना तलाशें।

मामले पर सुनवाई न्यायाधीश विवेक सिंह ठाकुर के समक्ष हुई। कोर्ट ने पिछली सुनवाई के दौरान दोनों पक्षों को अदालत में उपस्थित रहने के आदेश दिए थे। वीरभद्र सिंह की ओर से कोर्ट को बताया गया कि वह बीमारी के कारण पीजीआइ चंडीगढ़ में भर्ती हैं। उन्हें दो महीने आराम करने की सलाह दी गई है। इस कारण मामले की सुनवाई टल गई। गत 29 मई को कोर्ट ने मामले की विशेषता को देखते हुए दोनों पक्षों में समझौता होने की संभावना तलाशने के लिए उन्हें कोर्ट में उपस्थित रहने के आदेश दिए थे।

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप