शिमला, राज्य ब्यूरो। हिमाचल में छह अगस्त को भारी बारिश काफी नुकसान कर सकती है। यह संभावना मौसम विभाग ने जताई है। मौसम विभाग ने छह अगस्त को पांच जिलों बिलासपुर, हमीरपुर, कांगड़ा, मंडी व सिरमौर में भारी बारिश होने की संभावना को लेकर ऑरेंंज अलर्ट जारी किया है। ऑरेंज अलर्ट का अर्थ है कि भारी बारिश से ज्यादा नुकसान हो सकता है।

मौसम विभाग ने छह अगस्त के लिए ही प्रदेश के चार जिलों ऊना, चंबा, शिमला व सोलन में भारी बारिश की संभावना व्यक्त कर यलो अलर्ट जारी किया है। यलो अलर्ट का अर्थ है कि लोगों को बारिश के दौरान सचेत रहने की जरूरत है।

 

49 सड़कें बंद रहीं

बारिश से हुए भूस्खलन के कारण प्रदेश में सोमवार को 49 सड़कें बंद रहीं। लोक निर्माण विभाग के अनुसार  रामपुर, मंडी, कुल्लू, सोलन, डलहौजी व  नुरपूर में चार-चार, रोहड़ू, पालमपुर व नाहन में तीन-तीन,  जोगेंद्रनगर में 11 और ऊना में पांच सड़कों पर यातायात बाधित रहा। 

पहाड़ी दरकी, बस पर मलबा गिरने से कर्मचारी घायल

शिमला के साथ सटी हसन वैली के समीप सोमवार दोपहर एक पहाड़ी दरक गई। पहाड़ी का मलबा एक होटल के कर्मचारियों को लेकर जा रही बस पर गिरा। इससे एक कर्मचारी घायल हो गया जिसे आइजीएमसी में दाखिल करवाया गया है। पहाड़ी दरकने से सड़क करीब दो घंटे तक बाधित रही।

कहां कितना तापमान

स्थान            न्यूनतम           अधिकतम

केलंग           14.0                    24.1

शिमला         17.6                    23.7

नाहन           18.2                    29.4

धर्मशाला      19.2                   28.4

कांगड़ा          22.3                   32.0

सुंदरनगर     23.1                  32.9

मंडी             24.0                   33.6 

ऊना            25.8                   36.4

(तापमान डिग्री सेल्सियस में)

किस अलर्ट का क्या मतलब...

ग्रीन - कोई खतरा नहीं

येलो अलर्ट - खतरे के प्रति सचेत रहें। मौसम विभाग के अनुसार येलो अलर्ट के तहत लोगों को सचेत रहने के लिए अलर्ट किया जाता है। यह अलर्ट जस्ट वॉच का सिग्नल है।

ऑरेंज अलर्ट - खतरा, तैयार रहें। मौसम विभाग के अनुसार जैसे-जैसे मौसम और खराब होता है तो येलो अलर्ट को अपडेट करके ऑरेंज कर दिया जाता है। इसमें लोगों को इधर-उधर जाने के प्रति सावधानी बरतने को कहा जाता है।

रेड अलर्ट - खतरनाक स्थिति। मौसम विभाग ने बताया कि जब मौसम खतरनाक स्तर पर पहुंच जाता है और भारी नुकसान होने की आशंका होती है तो रेड अलर्ट जारी किया जाता है।  

 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Babita kashyap

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप