राज्य ब्यूरो, शिमला : शहीद कैप्टन विक्रम बतरा कॉलेज पालमपुर के पि्रंसिपल पर वित्तीय गड़बड़ी के आरोप लगे हैं। पि्रंसिपल ने राष्ट्रीय उच्चतर शिक्षा अभियान (रूसा) की ग्रांट के तहत मिलने वाले करोड़ों रुपये का बजट दूसरे कार्यो पर खर्च किया है। पि्रंसिपल द्वारा अन्य योजनाओं के तहत आने वाले धन का दुरुपयोग करने व इसे अन्य कार्यो पर खर्च करने की शिकायतें भी विभाग को मिली हैं। उच्च शिक्षा विभाग ने प्रिंसिपल के खिलाफ विभागीय जांच का आदेश दिया है।

सूत्रों के अनुसार आरोपित पि्रंसिपल के खिलाफ 12 से अधिक शिकायतें अधिकारियों को मिली हैं। इनमें सबसे अधिक शिकायतें वित्तीय गड़बड़ी की हैं। शहीद कैप्टन विक्रम बतरा कॉलेज पालमपुर में वित्तीय गड़बड़ियों की शिकायतें प्रदेश सरकार को काफी समय से मिल रही थीं। वित्त विभाग ने मामले की गंभीरता को देखते हुए कॉलेज के पि्रंसिपल की वित्तीय शक्तियां छीन ली हैं। अब राजकीय महाविद्यालय खुंडियां के पि्रंसिपल आरएस पटियाल को विक्रम बतरा कॉलेज के प्रिंसिपल की वित्तीय शक्तियां प्रदान की गई हैं। आरोपित प्रिंसिपल पहले से विवादों में रहे हैं। उनके खिलाफ कॉलेज के कर्मचारियों व स्टाफ सदस्यों ने लड़ाई झगड़ा करने का आरोप लगाया था। इस मामले में प्रदेश सरकार ने उन्हें करीब दो महीने पहले चार्जशीट किया था। अंडर ट्रांसफर हैं प्रिंसिपल

प्रदेश सरकार ने आरोपित पि्रंसिपल का तबादला दूसरे कॉलेज में किया था। लेकिन न्यायालय से कुछ समय के लिए स्टे लेकर वह विक्रम बतरा कॉलेज में ही तैनात हैं। कोर्ट द्वारा दिए गए समय के बाद पि्रंसिपल उस कॉलेज में ज्वाइन करेंगे जहां के लिए उनका तबादला किया गया है। उच्च शिक्षा निदेशालय के अधिकारी करेंगे जांच

शहीद कैप्टन विक्रम बतरा कॉलेज पालमपुर के अंडर ट्रांसफर पि्रंसिपल के खिलाफ वित्तीय गड़बड़ी की शिकायतें मिली हैं। विभागीय जांच का आदेश दे दिया गया है। उच्च शिक्षा निदेशालय से ही एक अधिकारी को जांच का जिम्मा सौंपा गया है।

डॉ. अमरजीत कुमार शर्मा, निदेशक, उच्च शिक्षा विभाग विभागीय जांच की जानकारी नहीं मामला ध्यान में नहीं है। विभागीय जांच होने की कोई जानकारी नहीं है।

अनिल कुमार जरियाल, पि्रंसिपल, शहीद कैप्टन विक्रम बतरा कॉलेज पालमपुर

Posted By: Jagran