राज्य ब्यूरो, शिमला : धर्मशाला में सात व आठ नवंबर को होने वाली दो दिवसीय ग्लोबल इन्वेस्टर मीट के लिए आयुर्वेद और कृषि क्षेत्र में निवेश जुटाने में कुछ कमी रह गई। इन क्षेत्रों में और प्रयास हो सकते थे। परिणामस्वरूप आयुष, आयुर्वेद और कृषि में निवेश की अधिक संभावनाएं बन सकती थी। अधिकारियों के प्रयास से ही 75,776 करोड़ रुपये के 570 समझौता ज्ञापनों पर हस्ताक्षर संभव हो पाए हैं। यह बातें वीरवार को मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने हिमाचल प्रदेश ग्लोबल इन्वेस्टर मीट के संबंध में हुई उच्चस्तरीय बैठक में कहीं।

उन्होंने कहा कि संयुक्त अरब अमीरात ने इस आयोजन में भागीदार देश बनने की सहमति जताई है। उन्होंने सभी विभागों व आयोजक भागीदारों को समन्वय एवं स्पष्ट धारणा के साथ कार्य करने के निर्देश दिए, ताकि इन्वेस्टर मीट को सफल बनाया जा सके। उन्होंने अधिकारियों से प्रोफेशनल दृष्टिकोण अपनाने को कहा। इन्वेस्टर मीट के सफल आयोजन से प्रदेश के लिए विकास व समृद्धि के नए द्वारा खुलेंगे।

जयराम ने बताया कि इस मेगा इंवेट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और अन्य केंद्रीय मंत्री भाग लेकर इस आयोजन की शोभा बढ़ाएंगे। इस दौरान कई बड़े पूंजीपति और विभिन्न देशों के राजदूत भी भाग लेंगे। प्रधानमंत्री के शुरू किए प्रगति पोर्टल से प्रेरणा लेकर प्रदेश सरकार ने भी निवेशकों को ऑनलाइन निगरानी, ट्रेकिग और त्वरित सुविधा प्रदान करने के लिए हिम प्रगति पोर्टल शुरू किया है। इस पोर्टल पर सभी समझौता ज्ञापन अपलोड किए गए हैं।

उन्होंने बताया कि सार्वजनिक उपक्रमों (पीएसयू) व अन्य विभागों को इस कार्यक्रम के दौरान प्रदर्शनी इत्यादि लगाने के लिए स्थान उपलब्ध करवाया जाएगा। केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय, केंद्रीय पर्यटन मंत्रालय और विदेश मंत्रालय ने भी इस मेगा इवेंट में भागीदार की भूमिका निभाने का आश्वासन दिया है। सफल आयोजन के लिए नौ समितियां गठित : बाल्दी

मुख्य सचिव डॉ. श्रीकांत बाल्दी ने बताया कि इन्वेस्टर मीट को सफल बनाने के लिए नौ समितियां गठित की हैं। उनकी अध्यक्षता में 16 अक्टूबर को धर्मशाला में समीक्षा बैठक होगी। संबंधित स्थान का दौरा कर तैयारियों का जायजा लिया जाएगा। सभी अधिकारी समर्पण से करेंगे काम : कुंडू

मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव संजय कुंडू ने मुख्यमंत्री को आश्वासन दिलाया कि सभी अधिकारी पूर्ण कर्तव्यनिष्ठा व समर्पण से इस इवेंट को ऐतिहासिक बनाने के लिए कार्य करेंगे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस