जागरण संवाददाता, शिमला : मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के आदेश के बाद वीरवार को नगर निगम ने मालरोड व रिज मैदान के बीच के रास्ते में गारबेज कलेक्शन के लिए बनाए गए शेड को तुड़वा दिया। नगर निगम की महापौर सत्या कौंडल को रविवार को मुख्यमंत्री ने रिज व मालरोड के दौरे के दौरान इसे यहां से हटाने के निर्देश दिए थे।

उन्होंने कहा था कि शिमला में देश सहित विदेश से सैलानी पहुंचते हैं। उनके घूमने के स्थल पर बनाए गए ऐसे गारबेज कलेक्शन के स्थल शिमला की सुंदरता पर दाग लगते हैं। इसके अगले ही दिन नगर निगम शिमला के आयुक्त आशीष कोहली ने मौके का दौरा कर खुद जायजा लिया। इसके बाद संबंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देश जारी किए कि इसे तुरंत हटा दिया जाए। यहां पर सफाई रखने और आकर्षक तरीके से बनाने के लिए काम किया जाए। आयुक्त के निर्देश के बाद वीरवार को इस कलेक्शन सेंटर को हटा दिया गया। अब इस स्थल को ओर बेहतर बनाया जाएगा। राष्ट्रपति के दौरे से पहले उठाए अवैध ढारे

संजौली और ढली में अवैध तरीके से बनाए गए ढारों और अनधिकृत तरीके से बैठे तहबाजारियों को हटा दिया गया है। इस दौरान टीम ने चार ढारे व 12 अवैध रूप से बैठे तहबाजारियों को उठाया। इन्होंने पैदल चलने वाले रास्तों पर भी कब्जा कर लिया था। टीम में नगर निगम के अतिरिक्त आयुक्त अजीत भारद्वाज के साथ अन्य अधिकारी भी मौजूद रहे थे। इनके साथ ही अमर चंद व जेई परवीन झिटा भी मौजूद रहे। मुख्यमंत्री ने रविवार को दिए थे निर्देश

रिज से रविवार को पैदल जाते वक्त मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने मालरोड के ठीक ऊपर बने कूड़े के डंपर को देखा था। उन्होंने इस पर आपत्ति जताई। इस दौरान महापौर को निर्देश दिए कि इस डंपर को तुरंत यहां से हटाया जाए। मुख्यमंत्री का काफिला चर्च के पास से लौट गया था।

Edited By: Jagran