राज्य ब्यूरो, शिमला : महंगाई के खिलाफ अखिल भारतीय काग्रेस कमेटी के 10 सितंबर के भारत बंद के लिए प्रदेश कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने व्यापारियों से सहयोग मांगा है। यहां जारी बयान में सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा कि महंगाई के बेलगाम होने से हर वर्ग परेशान है। घर का बजट बिगड़ चुका है। 10 सितंबर को सुबह 10 से तीन बजे तक बंद रहेगा, ताकि केंद्र सरकार नींद से जागे और महंगाई पर लगाम लगाए। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं को शातिपूर्ण बंद करने के निर्देश दिए हैं।

कांग्रेस कार्यकर्ताओं को बंद के दौरान आपातकालीन सेवाओं एंबुलेंस, अग्निशमन व अन्य सेवाओं को न रोकने को कहा है।

उनका कहना है कि केंद्र की मोदी सरकार ने साढ़े चार साल में पेट्रोल-डीजल पर टैक्स लगाकर 11 लाख करोड़ रुपये कमाया है। पेट्रो पदार्थो की कीमतें आसमान छू रही हैं। रसोई गैस का सिलेंडर 900 रुपये का हो गया है। 16 मई 2014 को अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत 107.09 डॉलर प्रति बैरल थी, जबकि आज कच्चे तेल की कीमत 73 डॉलर प्रति बैरल है। यूपीए सरकार के समय पेट्रोल की कीमत 70 रुपये थी, जबकि मोदी सरकार में 6 सितंबर को 80 रुपये थी। यूपीए सरकार में डीजल 55 रुपये, जबकि आज 70 रुपये है। रसोई गैस का सिलेंडर यूपीए सरकार में 400 था, आज 900 रुपये में मिल रहा है। दूध यूपीए सरकार में 40 था, आज 52 रुपये मिल रहा है। दाल यूपीए सरकार में 70 रुपये, आज 170 रुपये मिल रही है।

Posted By: Jagran