अपने हलके में दूसरे नेता के हस्तक्षेप से परेशान मुख्य सचेतक

सीएम से की मुलाकात, नेता के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग

जागरण संवाददाता, शिमला : मुख्य सचेतक एवं पूर्व मंत्री नरेंद्र बरागटा अपने हलके में पार्टी के दूसरे नेता के हस्तक्षेप से परेशान हैं। उन्होंने सोमवार को ओकओवर में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर से मुलाकात की। इस दौरान दोनों नेताओं के बीच दो घंटे तक राजनीतिक मसलों पर चर्चा हुई। बरागटा ने मुख्यमंत्री को बताया कि पार्टी का एक नेता उनके हलके में अनावश्यक हस्तक्षेप कर रहा है। उन्हें राजनीतिक तौर पर कमजोर करने का षड्यंत्र रचा जा रहा है।

बरागटा ने मुख्यमंत्री से इस पर तुरंत अंकुश लगाने और कार्रवाई करने की मांग की। उन्होंने कहा कि इसे समय रहते नहीं रोका गया तो आने वाले समय में संगठन की दृष्टि से यह घातक साबित हो सकता है। उन्होंने बागवानी के मसले पर भी मुख्यमंत्री से चर्चा की और सुझाव दिए। उन्होंने सेब बाहुल क्षेत्र में बागवानी विश्वविद्यालय खोलने की मांग की।

हाईकमान से भी मामला उठाया जाएगा

नरेंद्र बरागटा ने कहा कि इस मसले पर शीघ्र हाईकमान, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सुरेश कश्यप व संगठन मंत्री पवन राणा से भी मिलेंगे। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष से पहली अक्टूबर को मिलने का कार्यक्रम है।

सीएम से हलके में शिलान्यास व उद्घाटन करने का आग्रह

बरागटा ने मुख्यमंत्री से हाटेश्वरी मंदिर के सुंदरीकरण, कार पार्किंग जुब्बल व गिरी गंगा परिसर का सुंदरीकरण करने के प्रोजेक्ट का शिलान्यास तथा पावर प्रोजेक्ट सावड़ा कुड्डू का उद्घाटन करने का आग्रह किया।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस