जागरण संवाददाता, शिमला : कोरोना संकट में शिमला के अस्पतालों में रक्त की कमी को दूर करने के लिए उमंग फाउंडेशन ने शिमला ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र की खटनोल पंचायत में रविवार को रक्तदान शिविर का आयोजन किया। इसमें पद्मश्री डॉ. उमेश भारती ने बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की। उमेश भारती ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में रक्तदान को लेकर उमंग फाउंडेशन द्वारा चलाई मुहिम भविष्य में ब्लड बैंकों में रक्त की कमी को पूरा करने में अहम भूमिका निभाएगी। उन्होंने युवक मंडलों, स्वयं सहायता समूहों व अन्य लोगों के सहयोग से आयोजित रक्तदान शिविर में स्वयं भी रक्तदान किया। शिविर में 50 लोगों ने रक्तदान किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता पंचायत प्रधान अनीता शर्मा ने की और रक्तदान भी किया। रक्त संग्रह आइजीएमसी ब्लड बैंक की टीम ने किया।

उमंग फाउंडेशन के ट्रस्टी विनोद योगाचार्य ने बताया कि खटनोल में यह पहला रक्तदान शिविर था। शिविर में स्थानीय ग्रामीण शारदा ने पहली बार रक्तदान कर जन्मदिन मनाया। छात्रा विपिन वर्मा, निकिता ठाकुर, शिक्षिका अनुराधा कश्यप, अलीशा हिमराल, ममता, कुसुम लता और ऊषा शर्मा ने पहली बार रक्तदान किया। दो सगी बहनों- नेहा और कल्पना ठाकुर ने भी रक्तदान किया। वहीं अर्चना फुल्ल ने भी रक्तदान किया।

इस अवसर पर उपप्रधान ललित चौहान, साहित्यकार नरेश देयोग, शिक्षक अश्विनी शर्मा, मोहिदर शर्मा, राकेश शर्मा दलाना, उमंग फाउंडेशन के अध्यक्ष प्रो. अजय श्रीवास्तव, संजीव शर्मा, तेजू नेगी, अभिषेक भांगड़ा, अनुराधा कश्यप, कोमल शर्मा, विजय कंवर, देव कश्यप, अनुष्का शर्मा, मनोज कुमार और अंकुर ने सहयोग दिया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस