राज्य ब्यूरो, शिमला : शिमला कांग्रेस ने ट्विटर हैंडल पर हमीरपुर से भाजपा विधायक की सार्वजनिक तौर पर पिटाई करने का मामला पोस्ट किया। इस वीडियो पोस्ट के साथ लिखा गया, 'अभी तो हमीरपुर में जनता ने भाजपा विधायक का स्वागत किया है, पूरे देश में इसी तरह से भाजपाइयों का स्वागत किया जाएगा।' जैसे ही भाजपा आइटी सेल को इसकी जानकारी मिली तो वीडियो की छानबीन की गई। हमीरपुर में फोन कर संपर्क साधा गया, लेकिन ऐसी किसी घटना की कोई जानकारी नहीं थी। पार्टी ने 15 मिनट के वीडियो का पर्दाफाश कर दिया।

भाजपा आइटी सेल के प्रदेश संयोजक चेतन बरागटा ने कहा कि कांग्रेस पार्टी लगातार झूठ फैला रही है। भाजपा विधायक के नाम से जो वीडियो वायरल किया गया है उसमें हमीरपुर में एक कर्मचारी नेता हैं। मामला पिछले साल का था, जिसे अब की घटना बताकर प्रदेश के लोगों को भ्रमित करने का प्रयास किया जा रहा है। इस तरह से सार्वजनिक जीवन में रहने वाले व्यक्ति के बारे में भ्रामक प्रचार करना गंभीर अपराध की श्रेणी में आता है। भाजपा अब कांग्रेस के झूठ की शिकायत चुनाव आयोग से करेगी। इस संदर्भ में आयोग को सूचित भी कर दिया है। यह झूठा वीडियो कांग्रेस पार्टी के ऑफिशियल अकाउंट से शेयर किया गया है। उधर, कांग्रेस महासचिव नरेश चौहान ने इसे कांग्रेस का आधिकारिक अकाउंट होने से इन्कार किया है। उन्होंने बताया कि कांग्रेस के सोशल मीडिया को राजेंद्र शर्मा देखते हैं।

Posted By: Jagran