रोहड़ू, जेएनएन। रोहड़ू उपमंडल के चिडग़ांव में 75 साल की एक बुजुर्ग महिला की हत्या कर दी गई। इस घटना को तीन युवकों ने लूट के इरादे से अंजाम दिया और फरार हो गए। आरोपियों के चेहरे बाजार में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद होने के बाद पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज, सोशल मीडिया और बेहतर कोर्डिनेशन से वारदात के कुछ घंटे बाद तीनों आरोपियों को दबोच लिया। तीनों आरोपी 20 से 25 साल के युवक हैं। सोशल मीडिया पर पुलिस में तीनों के प्रवासी होने का अंदेशा जताया था, लेकिन तीनों हिमाचल के ही निवासी निकले। पुलिस ने देर रात शिमला के घनाहट्टी में नाका लगाकर इन्हें हिरासत में लिया। पुलिस अब तीनों को कोर्ट में पेश करेगी। मामला चिडग़ांव के चिलाला इलाके के धूधना गांव का है।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक गुरुवार दिन में तीनों युवक लूट के इरादे से बुजुर्ग महिला के घर घुसे थे। इस दौरान बुजुर्ग महिला के शोर मचाने पर उन्होंने गला दबाकर महिला को मौत के घाट उतार दिया और मौका-ए-वारदात से फरार हो गए। मृतक महिला का नाम रामपती पत्नी स्व0 केदार सिंह है। स्थानीय लोगों की सूचना पर हरकत में आई पुलिस ने आरोपियों की धड़पक्कड़ के लिए जाल बिछाया और इलाके में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज जुटाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर अन्य थानों की पुलिस से तालमेल कर सफलता हासिल की। 

शिमला के एसपी ओमा पति जंबाल ने पुष्टि करते हुए बताया कि तीनों आरोपियों को बीती रात शिमला-बिलासपुर हाइवे पर घनाहट्टी में नाके के दौरान पकड़ लिया गया है। इन्हें चिडग़ांव ले जाया जा रहा है। आज इन्हें कोर्ट में पेश किया जाएगा। तीनों हिमाचल के ही निवासी हैं। उन्होंने कहा कि इस सम्बंध में आईपीसी की धाराओं 302 व 392 के तहत केस दर्ज किया गया है।

हिमाचल प्रदेश की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Babita kashyap

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप