संवाद सहयोगी, मंडी : नगर निगम मंडी की पुरानी मंडी में अब लोगों को अपने वाहन पार्क करने में परेशानी नहीं होगी। नगर निगम के आग्रह पर शहरी विकास विभाग ने पुरानी मंडी में मिडल स्कूल के निकट पार्किंग निर्माण के लिए दो करोड़ रुपये की राशि जारी कर दी है। इधर, दूसरी ओर से लोक निर्माण विभाग ने साइट का निरीक्षण कर टेस्टिग में भी साइट को पार्किंग के लिए उपयुक्त करार दिया है।

लगातार बढ़ती आबादी से हर साल लाखों वाहन सड़कों पर उतर रहे हैं। इससे एक ओर जहां यातायात पर अतिरिक्त दबाव पड़ रहा है वहीं लोगों को अपने वाहन खड़ा करने के लिए पार्किंग में स्थान तक नहीं मिल रहा है। शहरों में तो स्थिति अधिक विस्फोटक होने लगी है। लोग वाहन तो खरीद रहे हैं लेकिन पार्किंग के अभाव में वाहनों को खड़ा करना शहर में मुश्किल हो रहा है। सड़क किनारे वाहन खड़े करने से चोरी होने के साथ सड़क दुर्घटना की भी आशंका बनी रहती है।

नगर निगम शहर में लोगों को वाहनों की पार्किंग की सुविधा प्रदान करने के लिए जहां बहुमंजिला पार्किंग स्थल विकसित करने के साथ साथ छोटे छोटे पार्किंग स्थल भी विकसित करने जा रही है। इसी कड़ी में पुरानी मंडी स्थित राजकीय माध्यमिक पाठशाला के खेल मैदान के निकट दो करोड़ की लागत से पार्किंग करने की कवायद शुरू कर दी है। शहरी विकास विभाग से इसके लिए बजट जारी होने के बाद साइट की टेस्टिग प्रक्रिया भी पूरी हो गई है। खलियार समेत अन्य स्थानों पर भी नगर निगम पार्किंग स्थल विकसित करने जा रही है ताकि लोगों को अपने घर के निकट वाहनों को पार्क करने की सुविधा मिल सके।

-----------------------

पुरानी मंडी में पार्किंग के निर्माण के लिए शहरी विकास विभाग ने दो करोड़ रुपये की राशि जारी कर दी है। लोक निर्माण विभाग जल्दी टेंडर प्रक्रिया शुरू करेगा। अन्य वार्डों में भी पार्किंग के लिए साइट का चयन किया गया है।

वीरेंद्र भट्ट, डिप्टी मेयर नगर निगम मंडी।

Edited By: Jagran