जागरण संवाददाता, मंडी : मंडी जिले में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर डराने लगी है। भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आइआइटी) मंडी के 22 शोधार्थी व तकनीकी शिक्षा निदेशक समेत जिले में कोरोना संक्रमण के 131 मामले आए हैं। इनमें 83 मामले आरटीपीसीआर व 48 रैपिड एंटीजन टेस्ट (आरएटी) से संक्रमित पाए गए हैं। सभी संक्रमितों को होम आइसोलेट किया गया है।

चार दिन में 35 से अधिक शोधार्थियों व फैकल्टी के संक्रमित होने के बाद आइआइटी प्रबंधन ने प्रदेश सहित अन्य राज्यों से आने वाले शोधार्थियों पर पूर्ण रोक लगा दी है। कोरोना संक्रमित पाए गए शोधार्थी कुछ दिन पहले ही आइआइटी पहुंचे थे। प्रबंधन ने इन सभी को क्वारंटाइन किया था। सराज हलके के थुनाग में कोरोना के मामले आने के बाद क्षेत्र के वकीलों ने कोर्ट न जाने का निर्णय लिया है। पद्धर उपमंडल में 11 नए मामले आए हैं। इनमें उरला से सात, नारला से दो, पद्धर से एक तथा चुक्कू पंचायत के नागणी गांव में एक स्कूली छात्रा पॉजिटिव पाई गई है। उरला में सहकारी सभा के सेल्समैन, सीनियर सेकेंडरी स्कूल की अधीक्षक और उनके बेटे के कोरोना पॉजिटिव आने बाद प्रारंभिक संपर्क में आए लोगों के लिए गए सैंपल में से सात नए मामले पॉजिटिव सामने आए हैं। इनमें चार व्यापारी शामिल हैं। उरला सहकारी सभा के सेल्समैन की पत्नी और माता पिता भी पॉजिटिव पाए गए हैं। स्वास्थ्य विभाग नए पॉजिटिव आए मामलों में उनके प्रांरभिक संपर्क में आए लोगों की सूची तैयार करने में जुट गया है। सदर उपमंडल के भरगांव, अलाग, नलहोग बरयारा में 22 लोग पॉजिटिव पाए गए हैं।

मंडी शहर के इंदिरा मार्केट, एसबीआइ व जेल रोड में चार लोग पॉजिटिव पाए गए है। सीआरसी सुंदरनगर, चत्तरोखडी, पुंघ, बीएसएनएल कॉलोनी, भोजपुर, भडोह, कनैड़ व सागी में 23 मामले आए हैं। जोगेंद्रनगर उपमंडल के कुफरी, टिक्करु, सरोली, गरोडू में 16 लोग संक्रमित पाए गए हैं। धर्मपुर व संधोल में सात, करसोग में चार, सरकाघाट में सात, सराज हलके के थुनाग व बालीचौकी में तीन लोग पॉजिटिव पाए गए हैं। मुख्य चिकित्सा अधिकारी मंडी डा. देवेंद्र शर्मा ने पुष्टि की है कि जिले में कोरोना संक्रमण के 131 मामले आए हैं। सभी संक्रमितों को होम आइसोलेट कर दिया गया है। एक संक्रमित की मौत हुई है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021