जागरण संवाददाता, मंडी : उपायुक्त एवं जिला सैनिक बोर्ड मंडी के अध्यक्ष ऋग्वेद ठाकुर ने कहा सशस्त्र सेना झंडा दिवस सेना के प्रति हम सभी के सम्मान का प्रतीक है। झंडा दिवस हमें एक आदर्श अवसर देता है, जब हम उदारतापूर्वक दान देकर सशस्त्र सेना के प्रति अपना सम्मान स्नेह और कृतज्ञता प्रकट कर सकते हैं। सशस्त्र सेना के सम्मान में हर साल सात दिसंबर को झंडा दिवस मनाया जाता है। इस दिन लोगों को एक विशेष झंडा देकर सैनिकों व उनके स्वजनों की सहायता के लिए धन एकत्रित किया जाता है। प्रदेश में केवल एक दिन झंडा दिवस मनाने की बजाय सात से 31 दिसंबर तक सशस्त्र सेना झंडा दिवस पर्व मानने का निर्णय लिया है। मंडी जिले में भी इस अवधि में इस पुण्य पर्व को मनाया जाएगा। उपायुक्त ने जिलावासियों से इस पर्व को सफल बनाने में अपना सहयोग देने का आग्रह करते हुए कहा कि सशस्त्र सेनाओं के नि:स्वार्थ बलिदान और देश के प्रति संपूर्ण समर्पण के प्रति अपनी कृतज्ञता सम्मान और एकजुटता दिखाते हुए योगदान दें ताकि सैनिकों के कल्याण के लिए अधिक से अधिक धनराशि एकत्रित की जा सके।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप