जागरण टीम, गोहर/मंडी : गोहर के तरौर स्थित मांहूनाग मंदिर से बीते दिनों देव के चोरी मुकुट को पुलिस ने उत्तर प्रदेश के कानपुर से बरामद कर लिया है, जबकि देवता के आभूषण व अन्य सामान अभी पुलिस के हाथ नहीं लगा है। शातिर चोर ने देवता के मुकुट को गोबर के उपलों के (कूप) ढेर के अंदर छुपा रखा था। पुलिस के आने की भनक लगने से पहले शातिर चोर वहां से फरार हो गया। पुलिस टीम चोर की धरपकड़ के लिए उसके अन्य संभावित ठिकानों पर दबिश दे रही है।

उत्तर प्रदेश के कानपुर जिला के कमरपुर निवासी संदीप कुमार पुत्र चंद्रपाल यादव ने कुछ दिन पूर्व देव माहूंनाग मंदिर में सेंधमारी कर मंदिर का ताला तोड़कर कीमती मुकुट सहित लाखों के आभूषण व अन्य सामान चुरा लिया था। आरोपित का पता मंदिर में लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज से चला था। आरोपित पूर्व में तरौर में ही काम कर रहा था। गोहर पुलिस ने मामला दर्ज कर एएसआइ ओमप्रकाश, एचसी श्याम तथा एचएचसी सुभाषचंद्र की टीम को कानपुर भेजा था। पुलिस ने आरोपित के घर में दबिश दी लेकिन वह पहले वहां से फरार हो गया। घर की तलाशी के दौरान पुलिस को उपलों के कूप से देवता का अष्टधातु का मोहरा बरामद किया। डीएसपी हेडक्वार्टर हितेश लखनपाल ने बताया आरोपित की धरपकड़ को पुलिस की मुहिम जारी है।

Posted By: Jagran