संवाद सहयोगी, मंडी : केंद्र सरकार की ओर से राफेल विमान सौदे में 42 हजार करोड़ रुपये का घोटाला किया गया है, जो अपने आप में सदी का सबसे बड़ा घोटाला है। जिस पर कांग्रेस पार्टी आने वाले दिनों में सड़क पर उतरकर जनता को जागरूक करेगी। कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष एवं राफेल डील विरोधी अभियान के मंडी जिला प्रभारी कुलदीप कुमार ने पत्रकारों से बातचीत में यह बात कही। उन्होंने कहा मोदी सरकार ने लड़ाकू विमान राफेल जेट के यूपीए सरकार के करार को तोड़कर अंबानी की कंपनी के माध्यम से इसकी खरीद करने और इसके दाम में कई गुणा बढ़ोतरी करके न केवल बड़ा घोटाला किया है, बल्कि देश की सुरक्षा के साथ भी खिलवाड़ किया है।

यूपीए सरकार के दौरान इस सौदे में एक जहाज की कीमत 520 करोड़ थी। मगर मोदी सरकार ने पुराने करार तोड़कर 1670 करोड़ में एक विमान की डील कर दी। जिससे 42 हजार करोड़ का घोटाला सामने आया है। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने इस मुद्दे को संसद में उठाया तो सरकार की ओर से कोई जबाव नहीं दिया जा रहा है। उन्होंने इसके लिए जेपीसी के गठन की मांग की है, जिससे सच्चाई देश की जनता के सामने आ सके। लेकिन इस पर भी सरकार टालमटोल कर रही है। आने वाले दिन में कांग्रेस इस मुद्दे को लेकर सड़क पर उतरेगी। लोकसभा चुनाव में यह मुद्दा होगा। इस अवसर पर मंडी जिला कांग्रेस अध्यक्ष दीपक शर्मा, चंपा ठाकुर, चेतराम ठाकुर, अलकनंदा हांडा सहित अन्य मौजूद रहे।

Posted By: Jagran