संवाद सहयोगी, सुंदरनगर : कोरोना वायरस से बचाव के लिए मुस्लिम समुदाय के लोगों ने ईद उल फितर की नमाज घरों में ही अदा की। इस मौके पर जामा मस्जिद के इमाम ने घर-घर जाकर ईद के शुकराना दुआ मांगी। कोरोना वायरस के कारण सरकार के निर्देशों के तहत रमजान के महीने में मस्जिदें बंद रही। हिमाचल प्रदेश मुस्लिम वेलफेयर कमेटी के जिला मंडी के प्रभारी सुलेमान अंसारी ने कोरोना महामारी में बंद के बावजूद घरों में रहकर इस तरह ईद मनाने पर समुदाय के लोगों को शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि समुदाय के लोगों ने ईद उल फितर के दौरान लॉकडाऊन की गाइडलाइन का पालन कर जिस तरह सरकार और प्रशासन का सहयोग किया है व सराहनीय है। मुस्लिम लोगों ने रोजे रखने के साथ-साथ नमाज तरावीह सहित सभी अरकान अपने अपने घरों से ही पूरे किए हैं। शारीरिक दूरी की अनुपालना करते हुए परिवार के पांच-पांच सदस्यों ने नमाज अदा की और मौलाना सनावर की सरपरस्ती में दुआ मांगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस