मंडी [जेएनएन] : मंडी में एक बड़ा बस हादसा हो गया। चंडीगढ़-मनाली एनएच में मंडी के बिंद्राबनी चेक पोस्ट के समीप एक निजी बस के ब्यास नदी में गिर जाने से 17 लोगों की मौत हो गई हैं। इनमें दो महिलाएं व 15 पुरुष शामिल हैं। बस में करीब 50 यात्री सवार बताए जा रहे थे। हादसे की सूचना मिलते ही पुलिस प्रशासन बचाव कार्य में जुट गया है। बस को ब्यास नदी से निकाल लिया गया है। कनिका बस सेवा मंडी से कुल्लू जा रही थी। मौके पर मौजूद प्रशासनिक अधिकारियों के अनुसार मरने वालों की संख्या अधिक भी हो सकती है। मौके पर ही 14 लोगों ने दम तोड़ दिया था। जबकि तीन घायलों ने अस्पताल में दम तोड़ा है।

देखें तस्वीरें : हिमाचल प्रदेश के मंडी में ब्यास नदी में गिरी बस, 17 मरे

हादसे में कई लोग घायल हुए हैं। अब तक 29 लोगों को अस्पताल पहुंचाया जा चुका है।

एडीएम विवेक चंदेल ने बताया कि मौके पर राहत व बचाव कार्य चले हुए है। बस की चपेट में एक बाइक भी आई हुई है। बस सड़क के किनारे लगे एक पैरापिट को तोड़ते हुए सीधे ब्यास में जा गिरी। बस का पिछला हिस्सा ब्यास नदी में डूब गया। इससे अधिकतर लोग पानी में डूब गए तथा उनकी मौत हो गई। एक घायल को मंडी से शिमला रेफर किया गया था। उसकी सुंदरनगर के समीप मौत हो गई।

एक अन्य घायल ने भी अस्पताल में दम तोड़ा। मरने वालों की अभी पूरी शिनाख्त नहीं हो सकी है। अभी तक मरने वालों में जिला कांगड़ा के बड़ोह के लोगों रिंकू व कर्म सिंह तथा मंडी के एक दंपत्ति सुभाष मल्होत्रा व लता मल्होत्रा की ही शिनाख्त हो पाई है। बस में कांगड़ा के बड़ोह के कंडी गांव का एक परिवार के छह लोग सवार थे।

मदद को बढ़ सब के हाथ

बस हादसे के बाद मदद को हजारों हाथ बढ़े। कई मुस्लिम समुदाय के लोग भी राहत कार्य में जुटे नजर आए। वहीं, मंडी ट्रक यूनियन के चालक व सहायक भी तुरंत राहत कार्य में जुटे रहे। अस्पताल में भी कई लोग घायलों की मदद को आगे आए।

पढ़ें: मंडी के ज्वालापुर के पास बस गिरी, 74 घायल

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस