सहयोगी, रिवालसर : बल्ह क्षेत्र के नेरचौक-सोयरा वाया टांडा-डहणू-कलखर रूट पर बस सेवा बंद होने से ग्रामीण बिफर गए हैं। कई दिनों से दो बसें नहीं आ रही हैं। बस सेवा बंद होने से लोगों को परेशानी उठानी पड़ रही है। जल्द बस सेवा बहाल न होने पर ग्रामीणों ने आंदोलन की चेतावनी दी है। आठ साल से सरकाघाट डिपो की बस त्रिफालघाट- मंडी वाया टांडा-सोयरा रूट पर चल रही थी। लेकिन कई दिनों से इस रूट पर बस नहीं चल रही है। दूसरी निजी बस सेवा नेरचौक-सिद्धयानी भी कई दिनों से बंद है। निजी बस बंद होने का  मामला जनमंच गुरुकोठा में भी उठाया गया था। लेकिन अभी तक सुलझा नहीं था कि सरकारी बस भी बंद हो गई।  लोगों ने आरोप लगाया कि क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी मंडी ने जनमंच की शिकायत पर कोई कार्रवाई न करके जन भावना का मजाक उड़ाया है। कामयाब रूट होने के बावजूद दोनों बसें बंद होने से पंचायत सिद्धयानी, बाल्ट सोयरा व नगर परिषद नेरचौक के मलथेहड़ व रत्ती वार्ड के लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। सिद्धयानी पंचायत प्रधान इंद्रवीर, पंचायत समिति सदस्य कर्म ¨सह, महिला मंडल डहणूगुलाबी देवी, युवक मंडल डहणू उमेश ठाकुर, वार्ड पंच बंगोट तिलक राज, बाल्ट पंचायत प्रधान आशा कुमारी, उपप्रधान तुले राम, पूर्व प्रधान भोला राम, विशनदास ने विधायक इंद्र गांधी व परिवहन मंत्री गो¨वद ठाकुर से बस सेवाओं को बहाल करने की मांग की है।

Posted By: Jagran