मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

मंडी, जेएनएन। पत्नी का पता न बताने पर घर छुट्टी आए एक फौजी ने 10 साल की भतीजी का तेजधार हथियार से गला रेत दिया। इसके बाद आरोपित ने मासूम को लहुलूहान हालत में खेत में फेंक दिया। बाद में बच्ची पर सुअर का हमला होने का शोर मचाकर ग्रामीणों को गुमराह करने का प्रयास किया। ग्रामीण बच्ची को नेरचौक मेडिकल कॉलेज ले गए। वहां बच्ची के गले में 20 से अधिक टांके लगे हैं।

फिलहाल बच्ची खतरे से बाहर है। उसके बयान के आधार पर बल्ह पुलिस ने आरोपित के विरुद्ध हत्या की कोशिश का केस दर्ज करके गिरफ्तार कर लिया है। बच्ची की मां ने बताया उसकी 10 वर्षीय बेटी मंगलवार को घर में अकेली थी। उसी दौरान बच्ची का चाचा एवं मौसा ओम प्रकाश उनके घर आया। वह बच्ची से अपनी पत्नी के बारे में पूछने लगा। उसकी पत्नी घरेलू विवाद  के चलते अलग रहती है। ओमप्रकाश कोठी गहरी गांव का रहने वाला है। वह भारतीय सेना में कार्यरत है और मौजूदा समय में जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा क्षेत्र में तैनात है। इन दिनों घर छुट्टी आया हुआ है।

आरोपित की पत्नी व लड़की की मां सगी बहने हैं और एक ही घर में ब्याही हुई हैं। इस वारदात का एक वीडियो भी सामने आया है। इसमें बच्ची कहते हुए सुनाई दे रही है उसका गला उसके चाचा ने रेता है। ओमप्रकाश शराब के नशे में था। रिवालसर पुलिस चौकी प्रभारी मुंशी राम की अगुआई में पुलिस ने बुधवार को घटनास्थल पर जाकर साक्ष्य जुटाए और लोगों के बयान कलमबद्ध किए। 

बच्ची का गला रेतने के आरोपित फौजी ओमप्रकाश को गिरफ्तार कर लिया है। उसका अपनी पत्नी के साथ भी कई साल से विवाद चल रहा है। पत्नी अलग रहती है। बच्ची ने उसकी पत्नी का पता बताने से मना किया तो तैश में आकर उसका गला रेत दिया। आरोपित को वीरवार को कोर्ट में पेश किया जाएगा।

-गुरदेव शर्मा, पुलिस अधीक्षक मंडी।

ईडी की बड़ी कार्रवाई इंडियन टेक्नोमेक कंपनी की 288 करोड़ की संपत्ति जब्त

मुंबई में महिला के साथ अश्लील हरकत करने वाला ऑटो चालक निकला सीरियल अपराधी

 

Posted By: Babita kashyap

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप