जागरण संवाददाता, मनाली : हिम आंचल टैक्सी ऑपरेटर यूनियन के अध्यक्ष गुप्तराम मारुति ने कहा कि रोहतांग दर्रे पर बनने वाला रोपवे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। रोहतांग दर्रे से प्रदेश ही नहीं देशभर के लोगों का रोजगार जुड़ा हुआ है। रोपवे के बनने से हजारों परिवार बेरोजगर हो जाएंगे। इसके विरोध में वह आत्मदाह तक करने को तैयार हैं।

रोहतांग दर्रे के अलावा मनाली में किसी भी पर्यटन स्थल को विकसित नहीं किया गया है। एकमात्र पर्यटन स्थल होने के कारण हर साल रोहतांग में पर्यटकों का बोझ बढ़ा है। प्रदेश सरकार ने रोहतांग दर्रे को रोपवे से जोड़ने की पहल कर दी है जो पर्यटन कारोबारियों के लिए सही नहीं है। मनाली के चौपट होते पर्यटन व्यवसाय को जिदा रखने के लिए लामा डुग, चंद्रखणी, हामटा या अन्य दूसरे पर्यटन स्थलों को भी रोपवे से जोड़ना जरूरी हो गया है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस