संवाद सहयोगी, कुल्लू : फोरलेन व टीसीपी के मुद्दों को लेकर प्रदेश फोरलेन प्रभावित 19 फरवरी को औट में मंथन करेंगे। फोरलेन संघर्ष समिति के प्रदेश अध्यक्ष एवं सेवानिवृत्त ब्रिगेडियर खुशाल ठाकुर ने बताया कि मार्च के प्रथम सप्ताह लोकसभा चुनाव के मद्देनजर आचार संहिता लगने की संभावनाओं ने फोरलेन प्रभावितों की ¨चता और बढ़ा दी है। उन्होंने बताया कि हालांकि जयराम सरकार फोरलेन प्रभावितों को चार गुणा मुआवजे के साथ-साथ पुनर्वास, टीसीपी, पांच मीटर रोड साइड कंट्रोल विडथ सहित अन्य मुद्दों पर सकारात्मक फैसले की बात कर रही है लेकिन आचार संहिता लगने से इन विषयों के लटकने का खौफ प्रभावितों को सताने लगा है। उन्होंने बताया कि इन्हीं सभी मुद्दों को लेकर 19 फरवरी को आयोजित होने वाली बैठक में सभी प्रभावित मंथन करेंगे। ठाकुर ने कहा कि इन सभी मुद्दों पर सरकार ने जो भी निर्णय लेना है वह आचार संहिता से पहले लिया जाए ताकि प्रभावितों को और परेशानियों का सामना न करना पड़े। नागचला से मनाली के बीच सैकड़ों दुकानें उजड़ जाने से महीनों से अपना सामान बक्सों में समेटे हुए दुकानदार राहत का इंतजार कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि इन सभी मुद्दों पर जहां सकरार व समिति के बीच सकारात्मक रूप से वार्ता आगे बढ़ रही है और इससे प्रभावितों को आशाएं भी जगी हैं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप