जागरण संवाददाता, मनाली :

शिक्षा मंत्री गोविद सिंह ठाकुर ने कहा है कि कुल्लू जिले में 1.25 लाख से अधिक लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाई जा चुकी है। 15 मई से जिला में वैक्सीनेशन के कार्य को दोगुणी गति के साथ अंजाम दिया जाएगा। शिक्षा मंत्री बुधवार को परिधि गृह मनाली में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ जिला में कोविड-19 के विभिन्न पहलुओं की समीक्षा कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य कर्मी संकट के इस दौर में दिन-रात लोगों की सेवा में तत्पर हैं और वह स्वयं लगातार कोरोना योद्धाओं, फ्रंटलाइन वर्करों का मनोबल बढ़ाने के लिए उनसे संवाद कर रहे हैं। यही नहीं, वह कोरोना संक्रमित मरीजों से भी वार्तालाप करते रहते हैं और उन्हें किसी प्रकार की समस्या हो तो तुरंत स्वास्थ्य विभाग को निर्देश जारी करते हैं। उन्होंने चिकित्सकों से कहा कि वे होम आइसोलेशन में कोरोना मरीजों के साथ संवाद बनाए रखें, ऐसे में उनका मनोबल बढ़ता है और स्वास्थ्य लाभ जल्द मिलता है। इस मौके पर उपाध्यक्ष प्रदेश भाजपा धनेश्वरी ठाकुर, अध्यक्ष नगर परिषद मनाली चमन कपूर, मंडल अध्यक्ष दुर्गा सिंह, महामंत्री ठाकुर दास सहित अन्य लोग भी इस अवसर पर मौजूद रहे। जिला में नहीं है आक्सीजन की कमी

जिले में कुल 915 एक्टिव मामले हैं। इनमें से कुछ लोग जिला अस्पताल में उपचाराधीन हैं, जबकि अन्य होम आइसोलेशन में हैं। उन्होंने कहा कि क्षेत्रीय अस्पताल कुल्लू में कोविड मरीजों के लिए 200 बिस्तरों की व्यवस्था की गई है। उन्होंने कहा कि जिला के अस्पतालों में कहीं पर भी आक्सीजन की कोई कमी नहीं हैं।

60 मीडिया कर्मियों को लग चुकी है वैक्सीन

शिक्षा मंत्री गोविद ठाकुर ने कहा कि मुख्यमंत्री ने मीडिया कर्मियों को फ्रंटलाइन वर्कर्स की श्रेणी में लाकर लोकतंत्र के चौथे स्तंभ का सम्मान किया है। मीडिया कर्मियों को प्राथमिकता के आधार पर कोरोना वैक्सीन लगवाने के उन्होंने निर्देश जारी किए हैं। जिले में अभी तक 60 से अधिक मीडिया कर्मियों को कोरोना की पहल डोज लगाई गई है।