संवाद सहयोगी, कुल्लू : अंतरराष्ट्रीय दशहरा उत्सव के आयोजन को दूसरी बैठक 20 अक्टूबर को होगी। इसमें उत्सव के आयोजन को लेकर अंतिम निर्णय लिया जाएगा। बैठक में फैसला होगा कि रथयात्रा में देवी-देवताओं के रथ आएंगे या निशानियां। इसके अलावा दशहरा उत्सव को लेकर मानक परिचालन प्रक्रिया (एसओपी( जारी करने बारे भी चर्चा होगी। हालांकि यह बैठक पहले सोमवार को रखी गई थी लेकिन किसी कारणवश स्थगित कर अब 20 अक्टूबर को होगी। इससे पूर्व आयोजित हुई बैठक में यह निर्णय लिया गया था कि दशहरा उत्सव सूक्ष्म रूप से मनाया जाएगा और भगवान रघुनाथ जी की रथयात्रा होगी। रथयात्रा में जिला के सात देवी-देवताओं की निशानयां भाग लेंगी और 100 लोग रथयात्रा में भाग ले सकेंगे। इन सभी 100 लोगों के 24 घंटे पहले कोरोना टेस्ट करवाए जाएंगे और रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद रथयात्रा में भाग लेंगे। अब दशहरा उत्सव की अंतिम बैठक मंगलवार को दशहरा कमेटी के अध्यक्ष एवं शिक्षा मंत्री गोविद सिंह ठाकुर की अध्यक्षता में आयोजित होगी जिसमें अंतिम निर्णय लिया जाएगा कि कितने देवी-देवता आएंगे और देवरथ आएंगे या देवी देवताओं के चिन्ह, रथयात्रा में कितने लोग भाग लेंगे सहित अन्य सभी चीजों को लेकर निर्णय लिया जाएगा।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस