संवाद सहयोगी, आनी : बैहना पंचायत के कारशा गांव में आठ परिवार छह महीने से पेयजल के लिए तरस रहे हैं। मजबूरी में लोगो को सतलुज नदी व बैहना खड्ड का दूषित पानी पीना पड़ रहा है। इस संबंध में लोगों ने कई बार विभाग से शिकायत की लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है।

कारशा गांव के भारत भूषण, शशि भूषण, भगत राम, सतीश कुमार, रामलाल, इंद्र कुमार का कहना है कि उन्हें रोपड़ी के साथ एक स्रोत से और बाद में शुष गांव के साथ बाइनाल नामक प्राकृतिक स्रोत से पेयजल आपूर्ति होती रही है लेकिन छह महीनों से पेयजल आपूर्ति ठप है।

इस कारण जान जोखिम में डालकर सतलुज दरिया से सिल्ट वाला पानी पीठ पर ढोकर लाना पड़ता है या फिर कुछ किलोमीटर दूर बेहना खड्ड या सैंज नाला से गाड़ियों में पानी लाना पड़ रहा है। ग्रामीणों ने विभाग से पेयजल आपूर्ति जल्द बहाल करने की मांग की है।

----------

गांव में पेयजल समस्या को देखते हुए एक नई पाइपलाइन का प्रोपोजल तैयार कर एस्टीमेट बना दिया है, जो डिवीजन पहुंच गया है। जैसे ही डिवीजन से अनुमति मिलेगी तो कार्य शुरू हो जाएगा।

-नरेंद्र नेगी,एसडीओ,जलशक्ति विभाग आनी।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021