धर्मशाला/शिमला, जेएनएन। हिमाचल में शुक्रवार व शनिवार को हुई बारिश व बर्फबारी से लोगों को मार्च में भी दिसंबर जैसी सर्दी का सामना करना पड़ रहा है। अंबर के बरसने से प्रदेश में कड़ाके की ठंड है। मौसम अभी राहत देने वाला नहीं है। मौसम विभाग निदेशक मनमोहन सिंह का कहना है मार्च में पहले भी बर्फबारी होती रही है। प्रदेश में 10 मार्च से पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने की संभावना है। मौसम विभाग के अनुसार आठ व नौ मार्च को मौसम साफ रहने की संभावना है। वहीं, 10 मार्च से ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी व निचले क्षेत्रों में बारिश हो सकती है। प्रदेश के अधिकतर क्षेत्रों में 12 व 13 मार्च को भारी बर्फबारी व बारिश होने के आसार हैं।

शनिवार को राजधानी शिमला, मनाली, रोहतांग दर्रे सहित प्रदेश में चोटियों पर बर्फबारी जबकि निचले इलाकों में बारिश हुई। प्रदेश में कई स्थानों पर शनिवार सुबह आंधी चली। शिमला, कुल्लू, लाहुल स्पीति, किन्नौर व कांगड़ा जिलों में शनिवार को चोटियों पर बर्फबारी हुई। प्रदेश के अधिकतर स्थानों में न्यूनतम व अधिकतम तापमान में पांच से छह डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट आई है। कांगड़ा जिला में मैक्लोडगंज के निकट गलू (धर्मकोट) तक बर्फ पहुंच गई। धौलाधार की चोटियों पर बर्फबारी होने से धर्मशाला शहर में अधिकतम तापमान में चार डिग्री सेल्सियस जबकि न्यूनतम तापमान में दो डिग्री सेल्सियस की गिरावट आई है।

कुल्लू जिले के सोलंग व गुलाबा में चार-चार इंच बर्फबारी हुई। लाहुल स्पीति की पहाडिय़ों पर भी बर्फबारी हुई। चंबा जिला में भरमौर व पांगी की ऊपरी पहाडिय़ों में हल्का हिमपात हुआ। भरमौर की पहाडिय़ों मणिमहेश, जालसू जोत, कुगती, खप्पर, पांगी की चोटियों हुड़ान, भुटोरी, साचपास, सुराल भटोरी, चस्क भटोरी, सेचू व मिधल में बर्फबारी हुई। किलाड़ मुख्यालय में दो से तीन इंच तक बर्फ गिरी।

200 सड़कें बंद

बर्फबारी के कारण प्रदेश में 200 सड़कों पर यातायात बंद रहा। वहीं, 214 ट्रांसफार्मर बंद रहने से कई जगह बिजली आपूर्ति बाधित रही।

कहां कितनी सड़कें व ट्रांसफार्मर बंद

  • स्थान,सड़कें,ट्रांसफार्मर
  • लाहुल स्पीति,142,00
  • शिमला,31,72
  • कुल्लू,10,13
  • सिरमौर,09,94
  • मंडी,06,00
  • चंबा,01,04
  • किन्नौर,01,31

विद्यार्थियों को परीक्षा केंद्र पहुंचने में दिक्कत

प्रदेश में इन दिनों बोर्ड कक्षाओं की वार्षिक परीक्षाएं हो रही हैं। बर्फबारी के कारण शिमला में स्कूली विद्यार्थियों को परीक्षा केंद्रों तक पहुंचने में दिक्कत आई। बर्फबारी की वजह से सड़क बंद होने पर शिमला में तीन घंटे तक रोहड़ू जाने वाले यात्रियों को बस अड्डे में रोके रखा गया। बाद में यातायात बहाल होने पर उन्हें बस में भिजवाया गया।

कहां कितनी बर्फबारी

  • रोहतांग,91.44
  • जलोड़ी,40.64
  • मनाली,30.48
  • चौपाल,30.48
  • खड़ापत्थर,22.86
  • थुनाग,15.24
  • नारकंडा,7.62
  • कुफरी,7.62 (बर्फबारी सेंटीमीटर में)।

Posted By: Rajesh Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस