शिमला, राज्य ब्यूरो। प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामलों को राेकने के लिए वीकेंड पर कर्फ्यू के साथ और बंदिशें लग सकती हैं। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की अध्यक्षता में दोपहर 2:30 बजे होने वाली बैठक में कई महत्वपूर्ण  फैसले लिए जाएंगे। मंत्रिमंडल कि इस बैठक में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों की प्रस्तुति के साथ अभी तक उठाये गए कदम और आने वाले समय में किए जाने वाले प्रयासों को भी रखा जाएगा। स्वास्थ्य विभाग और आपदा प्रबंधन विभाग की तरफ से इस संबंध में प्रस्तुति दी जाएगी कि कोरोना की संक्रमण को रोकने के लिए आगे की क्या कुछ रणनीति है।

सरकारी कार्यालय में 50 फीसद कर्मचारियों की उपस्थिति के साथ 5 दिन कार्यालय की व्यवस्था करने के बाद भी अभी कोरोना संक्रमण रूक नहीं रहा है ऐसे में बाहरी राज्यों से आने वाले पर्यटकों पर अंकुश लगाने और उनकी संख्या को रोकने के लिए वीकेंड कर्फ्यू लागू किया जा सकता है। कोरोना संक्रमण कि बढ़ते मामलों को देखते हुए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने अपने सभी कार्यक्रम 15 जनवरी तक स्थगित किए हैं। प्रदेश में कोरोना एक्टिव मामले अब 10,000 तक पहुंचने वाले हैं ऐसे में संक्रमण को रोकने के लिए कड़ी पाबंदी लगानी आवश्यकता महसूस हो रही है इसी को दिखते हुए मंत्रिमंडल की बैठक मकर सक्रांति के बावजूद बुलाई गई है।

इसके साथ ही बाजारों के खुलने और बंद होने के समय में भी कुछ कमी हो सकती है जिससे भीड़ और संक्रमण के खतरे को कम किया जा सके मिली जानकारी के अनुसार मंत्रिमंडल की इस बैठक में 30 एजेंडा आइटम पर चर्चा होगी जिस में मुख्य रुप से कोरोना संक्रमण सबसे अहम है। मंत्रिमंडल की बैठक में कई और अहम निर्णय लिए जाएंगे।

बाजारों में उड़ने वाली भीड़ को कम करने के लिए रेंडम सैंपल के जारी होंगे निर्देश

बाजार में लगातार भीड़ बढ़ रही है और बंदिशें लगाने के बाद थी इनमें कमी नहीं आ रही है और लोग कोरोना को लेकर जारी निर्देशों का पालन नहीं कर रहे हैं। ऐसे में बाजारों में आने वाले लोगों की रेंडम सैंपलिंग की जाएगी। जिससे कोरोना संक्रमण को फैलने से रोका जा सके।

Edited By: Richa Rana